मुम्बई: महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे सत्ता में सौ दिन पूरे होने पर सात मार्च को अयोध्या जायेंगे. शिवसेना नेता संजय राउत ने शनिवार को यह घोषणा की. उन्होंने ट्वीट किया कि अयोध्या में जल्लोष (जश्न). सात मार्च, 2020. उन्होंने बाद में संवाददाताओं से कहा कि महाराष्ट्र विकास अघाडी (एमवीए) सरकार के अगुवा उद्धव ठाकरे अयोध्या में रामलला की प्रार्थना करेंगे और सरयू के तट पर आरती करेंगे.

 

उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री सत्ता में 100 दिन पूरे होने पर अयोध्या जायेंगे. इस अवसर पर देशभर के हजारों शिवसैनिक वहां उपस्थित रहेंगे. राउत ने कहा कि यह यात्रा ‘संकल्प और विश्वास का विषय’ है और उसमें कोई राजनीतिक कोण नहीं है. जब उनसे भाजपा की इस आलोचना के बारे में पूछा गया कि उद्धव ठाकरे को अपने साथ कांग्रेस नेता राहुल गांधी को अयोध्या ले जाना चाहिए, तो उन्होंने कहा कि कांग्रेस और राकांपा नेतृत्व ने राममंदिर मुद्दे पर अदालत के फैसले का स्वागत किया है.

मुख्यमंत्री बनने के बाद पहली बार जाएंगे अयोध्या
उन्होंने कहा कि भाजपा क्या कहती है, हम उस पर ध्यान नहीं देते. राज्य का मुख्यमंत्री बनने के बाद ठाकरे की यह पहली अयोध्या यात्रा होगी. उन्होंने 28 नवंबर, 2019 को मुख्यमंत्री के रूप में शपथ ली थी.