उल्हासनगर में मनपा चुनाव 21 फरवरी को होने हैं। चुनाव में जीत की ख्वाहिश लेकर सभी पार्टी मैदान में कूद चुकी है। लेकिन इस बार के चुनाव पर नजर सभी की होगी। जहां कभी बीजेपी और सेना चार चुनाव में एक साथ मैदान में उतरते थे आज प्रतिद्वंद्वी की भूमिका दोनों निभा रहे हैं। बीजेपी से अलग होने के बाद इस बार मनपा चुनाव शिवसेना तथा आरपीआई मिलकर लड़ रही हैं।

वही इस चुनाव में जीत हासिल करने के लिए सभी सभी पार्टियों ने अपने दमदार उम्मीदवारों को मैदान में उतारा है। लेकिन आपको जानकर हैरानी होगी की साफ-सुथरी छवि की बात करने वाली पार्टियों ने इस बार दागी छवि के उम्मीदवारों को मैदान में उतारा है। बता दें दो गैर-सरकारी संगठन असोसिएशन फॉर डेमोक्रेटिक रिफॉर्म्स (ADR) और महाराष्ट्र इलेक्शन वॉच की रिपोर्ट के अनुसार महाराष्ट्र में हो रहे महानगर पालिका चुनावों में तमाम सियासी पार्टियों ने आपराधिक पृष्ठभूमि वाले उम्मीदवारों को टिकट दिया है। इस रिपोर्ट में महाराष्ट्र की 7 महानगर पालिका के आंकड़े सामने आये है। यह भी पढ़ें: बीएमसी चुनाव 2017: 216 उम्मीदवारों पर दर्ज है आपराधिक मामले

जरा इन आंकड़ो पर डाले नजर

ulhasnagar-compressed

आंकड़ो के अनुसार इस बार उल्हासनगर मनपा चुनाव में 363 उम्मीदवार अपनी किस्मत आजमाएंगे। लेकिन इनमे से 49 आपराधिक मामले वाले उम्मीदवार हैं। जिनमें भारतीय जनता पार्टी के 54 उम्मीदवारों में 12 और शिवसेना के 48 में 8 के उपर अपराधिक मामले दर्ज हैं। तो वही करोड़पति उम्मीदवारो की बात करें तो 363 में 57 करोड़पति है।  फिलहाल इस बार के मनपा चुनाव में जनता किसे कुर्सी देगी और किसे बेदखल करेगी यह तो आने वाला समय ही बताएगा।