Kisan Andolan:केंद्रीय मंत्री रावसाहेब दानवे (Raosaheb Danve) ने अजीबोगरीब बयान दिया है और दावा किया है कि नए कृषि कानूनों (New Farm Law) के खिलाफ जारी किसानों के विरोध प्रदर्शन (Farmers Protest) के पीछे चीन और पाकिस्तान का हाथ है. उन्होंने आरोप लगाया कि संशोधित नागरिकता अधिनियम (CAA) और राष्ट्रीय नागरिक पंजीकरण (NRC) को लेकर पहले मुसलमानों को गुमराह किया गया था. उसी तरह अब किसानों को बरगलाया जा रहा है कि नए कृषि कानूनों से उन्हें नुकसान होगा. Also Read - पाकिस्तान में हालात बिगड़े, 3 बजे तक के लिए बंद किए गए सभी सोशल मीडिया प्लैटफॉर्म

महाराष्ट्र के जालना जिले के बदनापुर तालुका में बुधवार को एक स्वास्थ्य केंद्र का उद्घाटन करते हुए रावसाहेब दानवे (Raosaheb Danve) ने कहा, ‘ दिल्ली में जो किसान आंदोलन (Farmers Protest) चल रहा है, वह किसानों का नहीं है. इसके पीछे चीन और पाकिस्तान का हाथ है. इस देश में मुसलमानों को पहले भड़काया गया. उन्हें कहा गया कि NRC आ रहा है, CAA आ रहा है और छह माह में मुसलमानों को इस देश को छोड़ना होगा. क्या एक भी मुस्लिम ने देश छोड़ा?’ Also Read - पाकिस्तान ने कपास के आयात पर सीमा शुल्क पर दी छूट

उन्होंने कहा,” वे प्रयास सफल नहीं हुए और अब किसानों को बताया जा रहा है कि उन्हें नुकसान सहना पड़ेगा. यह चीन-पाकिस्तान की साजिश है.”हालांकि मंत्री ने इस बारे में नहीं बताया कि किस आधार पर उन्होंने यह दावा किया कि किसानों के विरोध के पीछे दोनों पड़ोसी देश हैं. Also Read - समुद्री रास्ते भारत आ रहे 8 पाकिस्तानी गिरफ्तार, 150 करोड़ की हेरोइन जब्त

केंद्रीय मंत्री दानवे ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी किसानों के प्रधानमंत्री हैं और उनका कोई भी निर्णय किसानों के खिलाफ नहीं होगा. किसानों के विरोध प्रदर्शन में चीन और पाकिस्तान को घसीटने के लिए दानवे पर चुटकी लेते हुए शिवसेना प्रवक्ता और पूर्व केंद्रीय मंत्री अरविंद सावंत ने कहा कि महाराष्ट्र में सत्ता गंवाने के कारण भाजपा नेता अपने होश में नहीं हैं. उन्हें पता ही नहीं है कि वे क्या बोल रहे हैं.

वहीं किसानों और सरकार के बीच सहमति नहीं बन पाने की वजह से किसानों का आंदोलन आज भी जारी है. किसानों ने कहा है कि अगर किसान बिल रद नहीं किया गया तो आंदोलन उग्र होगा.