मुंबई: नई दिल्ली और वाराणसी के बीच वंदे भारत एक्सप्रेस की सफलता से उत्साहित रेलवे मुंबई से पुणे, नासिक एवं वड़ोदरा के बीच ऐसी अर्द्ध उच्च गति वाली वंदे भारत जैसी ट्रेनें ट्रेनें चलाने की संभावना तलाशने की योजना बना रहा है. यदि परीक्षण योजना के मुताबिक सही रहा तो मुंबई से पुणे, और नासिक के बीच यात्रा का समय घटाकर दो घंटे किया जा सकेगा.Also Read - Railway Recruitment 2021: रेलवे में सरकारी नौकरी का फिर सुनहरा अवसर, जल्दी करें आवेदन

बता दें कि वंदे भारत एक्सप्रेस से नई दिल्ली और वाराणसी के बीच यात्रा का समय 40 फीसदी घट गया है. रेलवे बोर्ड के सदस्य (रॉलिंग स्टॉक) राजेश अग्रवाल ने कहा, ”हम यह पता करना चाहते हैं कि क्या ऐसी ही ट्रेन मुंबई से पुणे, मुंबई से नासिक, मुंबई से बड़ौदा के बीच भी चलाई जा सकती है. अगले हफ्ते से प्रयोग के तौर पर ऐसी ट्रेनें चलेंगी.” Also Read - Platform Ticket Price Reduce in Mumbai: मुंबई में लोगों को बड़ी राहत, Railway ने प्लेटफॉर्म टिकट की बढ़ी कीमतें वापस लीं

भारत सरकार के पदेन सचिव अग्रवाल ने कहा, हम वंदे भारत के पैटर्न पर अगले हफ्ते से ऐसी ट्रेनों का प्रायोगिक परीक्षण शुरू करने जा रहे हैं. एक एसी ईएमयू रेक और एक गैर एसी मेमू रेक मध्य एवं पश्चिम रेलवे को दिए जाएंगे. यदि परीक्षण योजना के हिसाब से सही रहा तो हम मुंबई से पुणे, और नासिक के बीच यात्रा का समय घटाकर दो घंटे से कम कर लेंगे. Also Read - Bharat Gaurav Train service: रेलवे 180 ट्रेनें को IRCTC, प्राइवेट कंपनियों और न‍िजी संस्‍थाओं को लीज पर देगा

सचिव अग्रवाल ने कहा कि अंतिम निर्णय अब तक नहीं लिया गया है. फिलहाल हम केवल संभावना तलाश रहे हैं. उन्‍होंने कहा कि रेल मार्गों पर अत्यधिक यातायात और ट्रैकों समेत बुनियादी ढांचों का उन्नयन रेलवे के सामने बड़ी चुनौतियां हैं.