मुंबई/नई दिल्‍ली: महाराष्‍ट्र में सरकार गठन को लेकर चल रही सियासी उठापटक के बीच मंगलवार को एनसीपी प्रमुख शरद पवार लीलावती अस्‍पताल में भर्ती शिवसेना नेता व प्रवक्‍ता संजय राउत से मिलने पहुंचे. एनसीपी प्रमुख कुछ देर राउत से मिलने के बाद वापस हो गए. इस बीच जब उनसे पूछा गया कि क्‍या आज कांग्रेस और एनसीपी के बीच मीटिंग होना तय है? तो उन्‍होंने कहा- किसने कहा कि मीटिंग है? मुझे नहीं पता.

बता दें सोमवार को सीने में दर्द के चलते शिवसेना सांसद संजय राउत को अस्‍पताल में भर्ती कराया गया था. मंगलवार को लीलावती अस्‍पताल पहुंचे एनसीपी प्रमुख पवार से जब पूछ गया क्‍या आज कांग्रेस और एनसीपी के बीच मीटिंग होना तय है? तो उन्‍होंने कहा- किसने कहा कि मीटिंग है? मुझे नहीं पता. जब कांग्रेस की देरी को लेकर सवाल पूछा गया तो उन्‍होंने कहा कि वह कांग्रेस से बात करेंगे.

वहीं, वहीं, एनसीपी ने कहा है कि जो भी निर्णय लिया जाएगा वह मिलकर ही लिया जाएगा. हम एक साथ चुनाव लड़े और एकसाथ हैं.एनसीपी प्रमुख के भतीजे व नेता अजित पवार ने कहा है कि जो भी निर्णय लिया जाएगा वह मिलकर ही लिया जाएगा, इसलिए कल हम कांग्रेस के जवाब का इंतजार करते रहे, लेकिन ये नहीं आया. हम अकेले इस पर तय नहीं कर सकते. यहां कोई गलतफहमी नहीं है, हम एक साथ चुनाव लड़े और एकसाथ हैं.

महाराष्‍ट्र में सरकार बनाने को लेकर19वें दिन कांग्रेस के एक नेता ने दावा किया है कि महाराष्‍ट्र में तीन दल (शिवसेना-कांग्रेस-एनसीपी) सरकार बनाएंगे और एक शिवसेना नेता सीएम होगा. यह बात महाराष्‍ट्र के कांग्रेस नेता कागडा चंदया पडवी ने कही है. उन्‍होंने कहा, प्रक्रिया चल रही है, लेकिन रिजल्‍ट पॉजिटिव होगा. व्‍यक्‍तिगतरूप से मेरा मानना है कि तीन दल (शिवसेना-कांग्रेस-एनसीपी) सरकार बनाएंगे और एक शिवसेना नेता सीएम होगा.