नई दिल्ली. रोज-रोज नई करतब करना और उसके बारे सोशल मीडिया पर अपने दोस्तों-परिचितों को बताना, आजकल शगल बन गया है. खासकर नौजवानों में इसका क्रेज ज्यादा है. और जब से टिक-टॉक वीडियो (Tik-Tok Video) बनाने और शेयर करने का चलन बढ़ा है, तो यह क्रेज युवाओं के सिर चढ़कर बोलने लगा है. लेकिन हैरतअंगेज करतब वाले वीडियो बनाने के दौरान कभी-कभी कुछ ऐसे हादसे भी हो जाते हैं, जिससे किसी की जान चली जाती है.

महाराष्ट्र में ऐसा ही एक मामला सामने आया है, जिसमें टिक-टॉक वीडियो बनाते वक्त गोली चलने से एक युवक की जान चली गई. जी हां, शिरडी के एक होटल में तीन दोस्त देसी कट्टे ( पिस्तौल) के साथ टिक-टॉक वीडियो बना रहे थे. पिस्तौल के साथ वीडियो बनाते वक्त अचानक ट्रिगर दब गया और गोली चल गई. गोली सीधे सीने में लगी, जिससे मौके पर ही युवक की मौत हो गई. पुलिस ने मारे गए युवक की पहचान 19 वर्षीय प्रतीक संतोष वाढ़ेकर के रूप में की है. वहीं, उसके साथ मौजूद दो दोस्तों के नाम- सन्नी पोपट पवार (20 साल) और नितिन अशोक वाढ़ेकर (27 साल) हैं. तीनों लोग प्रतीक के रिश्तेदार की तेरहवीं की रस्म के लिए शिरडी आए थे और वहां के होटल में ठहरे थे.

होटल से भागने का किया प्रयास
अंग्रेजी अखबार डेली मिरर की रिपोर्ट के मुताबिक, पुलिस ने बताया कि 13 जून को प्रतीक के रिश्तेदार की तेरहवीं थी. तीनों दोस्त इसके लिए शिरडी पहुंचे और होटल में ठहरे. शाम के समय तीनों ने मिलकर मोबाइल पर वीडियो बनाने और उसे टिक-टॉक पर अपलोड करने की योजना बनाई. उनके पास एक देसी कट्टा भी था, जिसके साथ वीडियो बनाने का प्लान हुआ. पुलिस ने बताया कि टिक-टॉक वीडियो बनाते समय अचानक पिस्तौल का ट्रिगर दब गया और गोली चल गई, जो सीधे जाकर प्रतीक के सीने में लगी. पुलिस के मुताबिक गोली चलने की आवाज सुनकर होटल में खलबली मच गई. प्रतीक के दोनों दोस्तों ने वहां से भागने का प्रयास किया तो होटल के स्टाफ उन्हें पकड़ने दौड़े. होटल के स्टाफ ने कहा कि भागने के दौरान दोनों ने हवाई फायरिंग भी की.

बहरहाल, घटना के बाद प्रतीक को नजदीक के सरकारी अस्पताल ले जाया गया, जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया. पुलिस ने मामले को लेकर केस दर्ज कर लिया. पुलिस ने आईपीसी की धारा 302 और 307 के तहत सन्नी पवार और नितिन वाढ़ेकर के खिलाफ केस दर्ज किया है. शिरडी के वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने अखबार को बताया कि मामले की जांच की जा रही है. यह पता लगाने की कोशिश की जा रही है कि सन्नी पवार के पास देसी कट्टा कहां से आया.