नई दिल्ली: दिल्ली एनसीआर इलाके में पड़ने वाले हरियाणा में पुराने वाहन अब सड़कों पर नहीं चल सकेंगे. हरियाणा के 14 जिलों में से 10 साल पुराने डीजल और 15 से पुराने पेट्रोल वाहनों को जब्त कर लिया जाएगा. इस बाबत हरियाणा पुलिस विशेष जागरुकता अभियान भी चलाएगी. सुप्रीम कोर्ट द्वारा जारी इस आदेश को न मानने वालों के खिलाफ वाहन को जब्त कर लिया जाएगा. वहीं वायु प्रदूषण को रोकने के लिए कोर्ट ने दिल्ली एनसीआर में पुराने वाहनों को चलाने पर प्रतिबंध लगाया है.Also Read - सुप्रीम कोर्ट के न्यायाधीश ने कहा- अदालतों पर भरोसे का संकट, लोगों को न्याय मिलना चाहिए

दरअसल सुप्रीम कोर्ट का यह राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र में पड़ने वाले 14 जिलों में लागू होगी. इन आदेशों का अनुपालन सुनिश्चित कराने के लिए पुलिस द्वारा जागरूकता अभियान भी चलाया जाएघा. वहीं पुलिस चालकों व वाहनों के मालिकों को पुराने वाहने के प्रति जागरूक करेगी. सुप्रीम कोर्ट और राष्ट्रीय हरित प्राधिकरण (कबाड़) के आदेशों को सख्ती से लागू करते हुए अभियान चलाया जाएगा. Also Read - Pollution Alert: कोई कचरा जलाए, धूल उड़ाए या किसी और तरह से करे प्रदूषण, इन नंबरों पर करें कॉल

हरियाणा पुलिस के प्रवक्ता ने मंगलवारके दिन इस नीति के बारे में जानकारी देते हुए कहा कि वायु प्रदूषण को रोकने के लिए सुप्रीम कोर्ट ने दिल्ली एनसीआर क्षेत्र में पुराने वाहनों के चलाने पर प्रतिबंध लगाया है. साथ ही उन्होंने कहा कि जागरूकता अभियान के तहत पुराने वाहनों के मालिक को सरकार की नीति के अनुसार इस श्रेणी के वाहनों को स्क्रैप करने की भी सलाह दी जाएगी. वहीं नियमों का उल्लंघन करने वालों के वाहनों को जब्त कर लिया जाएगा. Also Read - नोएडा में प्रदूषण फैलाने वाले वाहनों पर प्रशासन सख्त, 10 साल से अधिक पुरानी गाड़ियों को किया जाएगा जब्त