नई दिल्ली: छत्तीसगढ़, राजस्थान, मध्य प्रदेश और तेलंगाना में विधानसभा चुनाव के लिये बसपा अध्यक्ष मायावती का चुनाव प्रचार अभियान अगले सप्ताह 25 अक्तूबर से शुरु होगा. पार्टी के एक वरिष्ठ नेता ने बताया कि छत्तीसगढ़, राजस्थान और मध्य प्रदेश में मायावती की 26 रैलियां होंगी. तेलंगाना में अभी बसपा प्रमुख के प्रचार अभियान को अंतिम रूप दिया जा रहा है. बसपा प्रमुख ने पार्टी के राज्यसभा सदस्य अशोक सिद्धार्थ को राजस्थान और छत्तीसगढ़ तथा वीर सिंह को तेलंगाना में चुनाव अभियान का प्रभारी बनाया है.

मायावती के विधानसभा चुनाव प्रचार अभियान की शुरुआत राजस्थान से होगी. राजस्थान में वह 25 और 26 अक्तूबर तथा एक और दो नवंबर को हर दिन दो दो रैली संबोधित करेंगी. इसके अलावा मध्य प्रदेश में मायावती की 12 जनसभाएं होंगी. इनकी शुरुआत दो नवंबर से होगी. रैलियों के स्थान और तारीख को अभी अंतिम रूप दिया जा रहा है. मध्य प्रदेश में कांग्रेस और सपा के साथ तालमेल नहीं हो पाने के कारण बसपा ने फिलहाल राज्य की सभी 230 सीटों पर चुनाव लड़ने का फैसला किया है.

मध्‍यप्रदेश विधानसभा चुनाव 2018: अपने अधिकांश विधायकों को फिर से चुनावी मैदान में उतारेगी कांग्रेस

उल्लेखनीय है कि विधानसभा चुनावों की रणनीति को अंतिम रूप देने के लिए पिछले एक सप्ताह से दिल्ली में मौजूद मायावती ने तीन राज्यों के लिए अपने प्रचार कार्यक्रम को मंजूरी दे दी है. छत्तीसगढ़ में मायावती की छह रैलियां होंगी. मायावती की पहली रैली चार नंवबर को होने के बाद वह 16 और 17 नवंबर को तीन जनसभाएं संबोधित करेंगी. छत्तीसगढ़ में कांग्रेस से अलग हुये पूर्व मुख्यमंत्री अजीत जोगी की अगुवाई वाली जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ (जेसीसी) और भाकपा के साथ गठबंधन कर बसपा राज्य की 33 सीटों पर चुनाव लड़ रही है. दो सीट पर भाकपा और 55 सीट पर जेसीसी लड़ेगी.