नई दिल्ली: कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने राफेल विमान सौदे को लेकर मंगलवार को नरेद्र मोदी सरकार पर फिर निशाना साधा और कहा कि वायुसेना के अधिकारियों एवं जवानों, शहीद पायलटों के परिवारों और हिंदुस्तान एयरोनॉटिक्स लिमिटेड (एचएएल) के कर्मचारियों का ‘अपमान करने और चोरी करने वालों’ को न्याय के जद में लाया जाएगा.Also Read - Maharashtra News: तीन बार शिवसेना विधायक रहे अशोक शिंदे कांग्रेस में शामिल, नाना पटोले ने दिलाई सदस्यता

Also Read - यूपी के फिरोजाबाद का नाम बदलकर चंद्रनगर करने का प्रस्ताव, सपा, बसपा और कांग्रेस ने जताई कड़ी आपत्ति

राहुल ने राफेल को लेकर कहा- अभी तो शुरुआत है, दो-तीन माह में और चीजें सामने आएंगी Also Read - कल विपक्षी दलों के साथ नाश्ते पर मुलाकात करेंगे राहुल गांधी, जानिए किस मुद्दे पर होगी चर्चा

राहुल गांधी ने ट्वीट कर कहा, ‘हम भारत की सेवा करने वाले वायुसेना के हर अधिकारी एवं जवान, हर शहीद पायलट के परिवार, एचएएल के साथ काम करने वाले हर व्यक्ति का दर्द महसूस करते हैं. हम समझ सकते हैं कि आप लोग क्या महसूस कर रहे हैं. हम उन सभी लोगों को न्याय के जद में लाएंगे, जिन्होंने आपका अपमान किया है और आपसे चोरी की है.’

फ्रांस के पूर्व राष्ट्रपति फ्रांस्वा ओलांद के एक कथित बयान आने के बाद से गांधी प्रधानमंत्री मोदी पर लगातार हमले कर रहे हैं. फ्रांसीसी वेबसाइट ‘मीडियापार्ट’ के मुताबिक, ओलांद ने कहा है कि राफेल विमान सौदे में दसाल्ट के ‘ऑफसेट साझेदार’ के तौर पर अनिल अंबानी की कंपनी रिलायंस डिफेंस का नाम प्रस्तावित किया था और ऐसे में फ्रांस के पास कोई विकल्प नहीं था. उधर, नरेंद्र मोदी सरकार ने ओलांद के कथित बयान को खारिज करते हुए कहा है कि दसाल्ट ने रिलायंस डिफेंस का चयन किया और इसमें सरकार की कोई भूमिका नहीं है.