Good News: दो माह के एक बच्चे ने कोरोना के खिलाफ जंग जीतने में कामयाबी हासिल की है. मामला छतरपुर जिले के खजुराहो, मध्य प्रदेश का है. Also Read - US Presidential Elections 2020: ट्रंप ने भारत में कोरोना संक्रमितों की संख्या की पर उठाए सवाल

बताया गया है कि छतरपुर जिले के खजुराहो में रहने वाला एक दंपति, जो दिल्ली में काम करता था, उसके यहां 13 जून को एक शिशु का जन्म हुआ. उस वक्त मां कोरोना से संक्रमित थी. बच्चे को जन्म देने के कुछ समय बाद वह दंपति अपने गांव लौट आए. Also Read - सॉफ्टवेयर इंजीनियर की लुटेरी गैंग: हाईवे पर मोबाइल डकैती करने वाले अरेस्‍ट, 15 करोड़ रुपए के मोबाइल जब्‍त

एक महीने के बाद जब बच्चा बीमार हुआ तो उसका कोविड टेस्ट करवाया गया. शिशु की रिपोर्ट पॉजीटिव आने पर उसे खजुराहो कोविड केयर सेंटर में रखा गया. Also Read - Covid 19 Update: कोरोना से कुल 97 हजार से अधिक लोगों ने गंवाई जान, 24 घंटे में 80 हजार नए मामले

सेंटर के प्रभारी डॉक्टर विनीत शर्मा ने बताया कि चूंकि छह माह तक शिशु को केवल स्तनपान कराया जाना चाहिए, इसलिए बच्चा पूरी तरह मां के दूध पर आश्रित था. मां और शिशु के लिए सेंटर में खास इंतजाम किए गए. इलाज के दौरान भी सुरक्षा मानकों का पालन करते हुए शिशु को स्तनपान कराना जारी रखा गया.

डॉ. शर्मा के अनुसार, विश्व स्वास्थ्य संगठन के नियमानुसार भी नवजात को किसी भी अवस्था में मां का दूध देने की अनुशंसा की जाती है और इससे शिशु की रोग प्रतिरोध क्षमता बढ़ती है. इस दंपति ने भी स्तनपान के निर्देशों को माना, उसका पालन किया. इसका नतीजा यह हुआ कि शिशु कोराना के संक्रमण से मुक्त हो गया.
(एजेंसी से इनपुट)