कोयंबटूर। तमिलनाडु में कोयंबटूर के नजदीक एक गांव में रविवार को तेज हवाओं की वजह से 300 साल पुराना बरगद का पेड़ गिर पड़ा. ग्रामीणों ने इस पेड़ को अनूठी विदाई दी. उन्होंने दीये और अगरबत्तियां जलाईं और पुष्पांजलि अर्पित की.

बुजुर्गों ने यादों को ताजा किया

थोंदामुथुर इलाके के पुथुर गांव में रहने वाले बुजुर्गों और अन्य लोगों ने इस पेड़ से जुड़ी अपनी यादों को ताजा किया कि कैसे यह उनकी करीब सात पीढ़ियों की रोजमर्रा की जिंदगी के साथ जुड़ा हुआ था.

नियमित इनकम टैक्स भरने के लिए 98 साल की महिला को मिला सम्मान

पेड़ के छांव में बसें खड़ी की जाती थीं और छोटी दुकानें भी थीं. पुलिस ने बताया कि पेड़ को काटकर इलाके से हटाने में दो दिन लगे. स्थानीय लोगों ने नम आंखों से पेड़ को विदाई दी.