नई दिल्ली. हरियाणा के जींद में जूतों की मरम्मत करने वाले नरसी राम के ‘जख्मी जूतों का हस्पताल’ की तस्वीर कुछ महीने पहले सोशल मीडिया पर वायरल हुई थी. देश के जाने-माने उद्योगपति आनंद महिंद्रा को भी किसी ने उनके वाट्सएप पर यह तस्वीर भेजी. इस तस्वीर से आनंद महिंद्रा इतने प्रभावित हुए कि उन्होंने इस ‘स्टार्टअप’ में निवेश करने का मन बना लिया. उन्होंने अपने टि्वटर हैंडल पर यह तस्वीर शेयर करते हुए इसे मार्केटिंग का अनोखा उदाहरण बताया और इसमें निवेश करने की बात कही. आनंद महिंद्रा ने अपनी कही बात पर अमल करके दिखा दिया है. आज अपने टि्वटर हैंडल पर उन्होंने नरसी राम के इस ‘हस्पताल’ के लिए चलती-फिरती दुकान का वीडियो शेयर किया. महिंद्रा ने टि्वटर यूजर्स को नरसी राम की याद दिलाते हुए इस कियॉस्क का वीडियो शेयर किया है. आप भी देखें वीडियो. Also Read - trending News Today, January 23, Anand Mahindra, shahrukh khan share new video unique Multiplication formula Clever Math Shortcut Multiplication On Fingers mATH TEACHER गुणा के इस फॉर्मूले से वाकिफ नहीं होंगे आप, टीचर के अनोखे अंदाज के फैन हुए शाहरुख खान और आनंद महिंद्रा

जूतों का अस्पताल बनाने के लिए टीम को बधाई
आनंद महिंद्रा ने अपनी कंपनी महिंद्रा एंड महिंद्रा की डिजाइन लैब को नरसी राम के जूतों का अस्पताल बनाने की जिम्मेवारी सौंपी थी. कंपनी के इंजीनियरों ने एक महीने के भीतर इस काम को पूरा कर दिखाया. दरअसल, अप्रैल में किए गए पोस्ट में ही आनंद महिंद्रा ने कहा था कि अगर कोई उस व्यक्ति को खोज निकालता है और वह व्यक्ति अब भी यह काम करता है, तो वह उसके स्टार्टअप में निवेश करना चाहते हैं. इसके बाद नरसी राम की खोज की गई और आज उसका अस्पताल बनकर तैयार है. इस अस्पताल में जूते रखने के लिए पर्याप्त जगह है. साथ ही जूतों की मरम्मत कराने इस अस्पताल तक पहुंचने वालों के बैठने के लिए बेंच का भी इंतजाम है. इसके अलावा इसमें जूतों की मरम्मत के लिए इस्तेमाल होने वाले सामान रखने के लिए ढेर सारे सेल्फ भी बने हुए हैं.

सोशल मीडिया पर एक्टिव रहते हैं आनंद महिंद्रा, नई कार के नाम का मांगा था सुझाव

Anand-Mahindra

 

यूनिक आइडिया को बताया आईआईएम में पढ़ाने लायक
आनंद महिंद्रा, नरसी राम के जूतों का हस्पताल से इस कदर प्रभावित हुए थे कि उन्होंने इसे मार्केटिंग का यूनिक आइडिया बताते हुए भारतीय प्रबंधन संस्थान यानी आईआईएम में पढ़ाने के लायक भी बताया था. उन्होंने अपने ट्वीट में नरसी राम के तरीके की तारीफ करते हुए लिखा था कि इस आदमी को इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ मैनेजमेंट में मार्केटिंग पढ़ाना चाहिए. बता दें कि यह पहली बार नहीं है कि आनंद महिंद्रा ने किसी बिजनेस आइडिया को प्रोत्साहन दिया है. इससे पहले भी वे यूनिक और इनोवेटिव बिजनेस आइडिया को प्रोत्साहित करने के लिए जाने जाते रहे हैं. आनंद महिंद्रा ने इससे पहले बोलेरो को फूड ट्रक के रूप में चलाने वाली एक महिला को बोलेरो गिफ्ट किया था. वहीं, एक ऑटो चालक ने जब अपने ऑटो को महिंद्रा कंपनी की स्कॉर्पियो का लुक दिया तो उसे भी आनंद महिंद्रा की तारीफ मिली.

रोचक और जानकारीपरक खबरों के लिए पढ़ते रहें India.com