Archer Soni Khatoon: देश के लिए जो खिलाड़ी पदक लाते हैं, उनकी तुलना किसी से नही की जा सकती. लोग उनके सम्मान में क्या कुछ नहीं करते. पर जब कठिन समय आता है तो गरीब परिवारों से ताल्लुक रखने वाले खिलाड़ियों का हाल किसी से नहीं छिपता. Also Read - Coronavirus in Jharkhand: कोविड-19 संक्रमण के 42 और मामलो के साथ संक्रमित लोगों की संख्या हुई 2739

ऐसी ही तीरंदाज हैं सोनी खातून. जिनकी तस्वीरें सोशल मीडिया पर लोगों का कलेजा छलनी कर रही हैं. हो भी क्यों ना, अगर देश का नाम ऊंचा करने वाली खिलाड़ी सब्जी बेचने को मजबूर हो तो कोई भी शर्मसार हो जाए. Also Read - सड़क किनारे सब्जी बेचने को मजबूर झारखंड की महिला एथलीट, राज्य स्तर पर जीत चुकी हैं 8 गोल्ड मेडल

दरअसल कुछ दिन पहले सोनी को सब्जी बेचते देखा गया था. ये तस्वीरें जब वायरल होने लगीं तो झारखंड सरकार ने सोनी खातून की मदद की. प्रशासन ने सोनी खातून को 20 हजार रुपये का चेक सौंपा है. हर संभव मदद पहुंचाने का भरोसा दिलाया है. Also Read - हाईकोर्ट ने सावन में वैद्यनाथ मंदिर खोलने के बारे में झारखंड सरकार से किया जवाब-तलब

इतने तंग हालात में भी सोनी खातून इन पैसों से धनुष खरीदकर अंतरराष्ट्रीय खिलाड़ी बनना चाहती हैं.

बेहद गरीब परिवार
बता दें कि सोनी एक गरीब परिवार से ताल्लुक रखती हैं. गरीबी के कारण ही उनकी पढ़ाई छूटी. परिवार के माली हालात इतने खराब हैं कि सोनी को सब्जी बेचनी पड़ रही है.