ईटानगर: अरुणाचल प्रदेश के राज्यपाल ब्रिगेडियर (सेवानिवृत्त) बी. डी. मिश्रा एक गर्भवती महिला को अपने हेलीकॉप्टर से तवांग से ईटानगर लेकर आए ताकि उसे वक्त पर डॉक्टरी सहायता उपलब्ध हो सके. राजभवन के सूत्रों ने बताया कि तवांग में बुधवार को आधिकारिक कार्यक्रम के दौरान राज्यपाल ने मुख्यमंत्री पेमा खांडू और स्थानीय विधायक के बीच बातचीत सुनी. Also Read - फूल की नई किस्म का नामकरण अरूणाचल प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री के नाम

Also Read - MAY में ये 9 जगह हैं बेस्‍ट ट्रैवल ऑप्‍शन, बच्‍चों संग मना आएं समर वेकेशन...

बॉयफ्रेंड की हत्या के बाद शव को पकाया, लेबर्स को खिलाया, बच गया तो कुत्तों को डाल दिया Also Read - Arunachal Pradesh: 23 Congress councillors join BJP | अरुणाचल प्रदेश: कांग्रेस को लगा बड़ा झटका, इटानगर नगर परिषद के 23 पार्षद बीजेपी में शामिल

विधायक खांडू को बता रहे थे कि एक गर्भवती महिला की हालत नाजुक है, लेकिन तवांग और गुवाहाटी के बीच अगले तीन दिनों तक कोई हेलीकॉप्टर सेवा नहीं है. इतना सुनते ही राज्यपाल मिश्रा ने कहा कि वह अपने हेलीकॉप्टर से महिला और उसके पति को साथ ले जाएंगे. दंपति के लिए हेलीकॉप्टर में जगह बनाने की खातिर राज्यपाल ने अपने दो अधिकारियों को तवांग में ही छोड़ने का फैसला लिया.

22 साल की महिला पर 17 साल के लड़के के यौन शोषण का आरोप, केस में है एक ट्विस्ट

मामला यहीं खत्म नहीं हुआ, मिश्रा का हेलीकॉप्टर असम के तेजपुर में ईंधन भरने के लिए उतरा. वहां पायलट ने देखा कि हेलीकॉप्टर में कुछ खराबी आ गई है और अब वह उड़ान नहीं भर सकता है. महिला की हालत से परेशान राज्यपाल ने तेजपुर स्थित वायुसेना बेस के कमांडिंग अफसर से दूसरा हेलीकॉप्टर मांगा और महिला और उसके पति को रवाना किया. वह खुद बाद में दूसरे हेलीकॉप्टर से गए.

#MeToo का असर: वर्कप्‍लेस पर बदल रहा माहौल, 80 फीसदी पुरुष महिलाओं के साथ कर रहे सतर्क व्‍यवहार

इतना ही नहीं मिश्रा ने सुनिश्चित किया कि ईटानगर में राजभवन के हेलीपैड पर एक स्त्री रोग विशेषज्ञ के साथ एम्बुलेंस मौजूद रहे ताकि महिला को कोई कष्ट ना हो. राज्यपाल ने बाद में महिला और बिल्कुल स्वस्थ पैदा हुए बच्चे को शुभकामनाएं और शुभाशीष दिए. राज्यपाल ने इसके बाद यह भी सुनिश्चित किया कि ईटानगर में राजभवन के हेलिपैड पर एक स्त्री रोग विशेषज्ञ के साथ ऐम्बुलेंस मौजूद रहे ताकि महिला को कोई कष्ट ना हो. राज्यपाल ने बाद में महिला और बिल्कुल स्वस्थ पैदा हुए बच्चे को शुभकामनाएं और शुभाशीष दिया. अरुणाचल के राज्यपाल के इस नेक काम की हर ओर तारीफ हो रही है.