सैन फ्रांसिस्को : दक्षिणी सूडान के एक व्यक्ति द्वारा अपनी 17 साल की बेटी की बाल दुल्हन के रूप में बोली लगाने और उसे नीलाम करने की कोशिश वाली पोस्ट वायरल होने के बाद मानवाधिकार कार्यकर्ताओं ने सोशल नेटवर्किंग साइट फेसबुक की आलोचना की है. द इनक्यूसिटर की रिपोर्ट में गुरुवार को कहा गया कि कम से कम पांच पुरुषों ने इस नीलामी में भाग लिया और बोली लगाई, जिसमें क्षेत्र का डेपुटी जनरल भी शामिल था. Also Read - Facebook ने पेश किया म्यूजिक वीडियो मेकिंग ऐप, Tik Tok ही तरह करेगा काम

Also Read - आ गया Facebook Shop, वर्चुअल दुकान से करें खरीदारी, जानें कैसे...?

एक आदमी जिसकी आठ पत्नियां थीं, उसने यह नीलामी जीती और किशोरी के पिता को 500 गायें, दो लक्जरी कारें, दो बाइक, एक बोट, मोबाइल फोन्स और 10,000 डॉलर की नगदी दी. अफ्रीकनफेमिनिज्म ने बुधवार देर रात एक ट्वीट में कहा, “दक्षिणी सूडान की एक 16 साल की लड़की फेसबुक पर सबसे ज्यादा बोली लगाने वाले एक व्यवसायी को शादी के लिए नवंबर में बेच दी गई. जबकि बोली लगाने वालों में चार अन्य भी शामिल थे, जिसमें सूडान का एक वरिष्ठ सरकारी अधिकारी भी था.” Also Read - 'दलितों और महिलाओं के प्रति 'नफरत फैलाने' वालों पर हो कार्रवाई, ट्विटर, वाट्सऐप, फेसबुक उठाएं कदम'

मिक्की माउस के 90वें जन्मदिन पर आयोजित होगी दुनिया की सबसे बड़ी पार्टी, दो महीने तक चलेगी

फिलिप्स अनयामंग एनगोंग नाम के मानवाधिकार वकील ने लड़की की नीलामी रोकने की कोशिश की थी. उन्होंने कहा, “वायरल हुआ फेसबुक पोस्ट एक मनुष्य के बाल दुव्यर्वहार, तस्करी और नीलामी का सबसे पड़ा परीक्षण था.” उन्होंने इसमें शामिल फेसबुक समेत सभी लोगों को जिम्मेदार ठहराने की अपील की.

स्‍मार्ट फोन से जानिए दूध में मिलावट है या नहीं, आईआईटी हैदराबाद ने तैयार किया सिस्‍टम

रिपोर्ट में कहा गया कि मानवाधिकार संगठन प्लान इंटरनेशनल दक्षिण सूडान ने लड़की की बोली लगाने के लिए सोशल मीडिया के प्रयोग की आलोचना की और इसे आधुनिक युग का दास-प्रथा करार दिया. संगठन के दक्षिण सूडान के निदेशक जार्ज ओटिम के हवाले से कहा गया, “तकनीक का यह बर्बर उपयोग बीते दिनों की दास बाजार की याद दिलाता है. दुनिया के सबसे बड़े सोशल नेटवर्किंग साइट पर एक लड़की को शादी के लिए आज के युग में बेच दिया गया, यह विश्वास से परे है.”