Fake Challan Case: यूपी परिवहन की फेक वेबसाइट बनाकर लोगों से लाखों के चालान वसूल लेने का अनोखा मामला सामने आया है. खबर है कि इस अपराधी ने करीबन 10 हजार लोगों को बेवकूफ बनाया. यही नहीं, अपराधी चार्टर्ड अकाउंटेंट है. Also Read - WhatsApp यूजर्स दें ध्यान, एक छोटी सी गलती से हो सकता है बड़ा नुकसान, अकाउंट से जुड़ा है मामला

फर्जी चालान की वेबसाइट बनाकर लोगों से लाखों रुपये की धोखाधड़ी करने वाले एकचार्टर्ड अकाउंटेंट को नोएडा के साइबर अपराध प्रकोष्ठ ने रविवार को गिरफ्तार कर लिया है. उसने अभी तक दस हजार से अधिक लोगों से ठगी की है. Also Read - ऑस्ट्रेलिया हुआ बड़े साइबर अटैक का शिकार, सरकारी और निजी क्षेत्र को बनाया गया निशाना, जांच में जुटी एजेंसियां

पुलिस आयुक्त के मीडिया प्रभारी पंकज कुमार ने बताया कि गौतम बुद्ध नगर पुलिस आयुक्तालय के साइबर अपराध प्रकोष्ठ ने बी -83 सेक्टर 40 में रहने वाले चार्टर्ड अकाउंटेंट रजत कुच्छल पुत्र राम कुमार गुप्ता को गिरफ्तार किया है. Also Read - क्या 'मुंबई' और 'पुणे' में सेना की होगी तैनाती? गृहमंत्री अनिल देशमुख ने ट्वीट कर दी पूरी जानकारी

पूछताछ के दौरान पुलिस को पता चला है कि आरोपी ने एक फर्जी वेबसाइट बनाकर चालान के फर्जी एसएमएस वाहन चालकों को भेजे. वाहन चालक इसे सरकारी वेबसाइट का मैसेज समझ कर एसएमएस में भेजे गए लिंक पर अपना शमन शुल्क जमा करा देते थे.

उन्होंने बताया कि पूछताछ के दौरान पुलिस को पता चला कि आरोपी ने 10,000 से ज्यादा लोगों से अब तक ठगी की है.
(एजेंसी से इनपुट)