नई दिल्ली: दुनियाभर में इस समय कोरोना वायरस का साया है. इस महामारी ने अब तक हज़ारों लोगों की जान ले ली है और लाखों को संक्रमित कर दिया है. इस बिमारी के फैलने के रास्ते से सब वाकिफ हैं मगर बीते दिनों कुछ ऐसा हुआ जिसने सबको अचंभित कर दिया. डेड बॉडी यानी लाश के संपर्क में आने से एक महिला और फिर उसके परिवार को यह बीमारी हो गई. Also Read - आक्रामक स्वभाव के लिए मशहूर कगीसो रबाडा ने कहा- मैं जल्दी आपा नहीं खोता हूं

13 मार्च को अपनी चाची के अंतिम संस्कार में शामिल होने के बाद वेस्ट मिडलैंड्स की 65 वर्षीय सुसान नेल्सन बीमार हो गईं. अगले सप्ताह उन्हें बर्मिंघम के क्वीन एलिजाबेथ अस्पताल में भर्ती कराया गया और फिर मंगलवार को उनका निधन हो गया. Also Read - महाराष्ट्र में कोरोना वायरस से अब तक 3,000 की मौत, मामले 83,000 के करीब पहुंचे

इस अंतिम संस्कार में शामिल होने वाले 16 और लोगों में भी कोरोना के लक्षण दिखने शुरू हो गए हैं जिनमें सुसान के पति, बेटी, भतीजी, और चाचा शामिल हैं. हालांकि मृत शरीर से नहीं बल्कि शरीर से जुड़ी चीजें जैसे कपड़े अन्य चीजों से इसका संक्रमण फैलता है और इस मामले में भी कुछ ऐसा ही हुआ होगा. Also Read - वैज्ञानिकों ने किया हाइड्रॉक्सीक्लोरोक्वीन दवा का विश्लेषण, कोरोना मरीजों के इलाज में नहीं दिखा इस दवा का खास फायदा

सुसान की बेटी अमांडा एक बिजनेस सपोर्ट मैनेजर हैं जो फिलहान अपने पिता के साथ आइसोलेशन में हैं. बता दें कि यूके में अब कोरोनोवायरस के लगभग 20,000 मामले हैं और आने वाले हफ्तों में यह संख्या बढ़ने की उम्मीद है.ब्रिटेन में मरने वालों की संख्या अब 1,228 हो गई है जिसमें ज़्यादातर बुज़ुर्ग शामिल हैं.

कोरोना के आगे सब बेबस, PM से लेकर प्रिंस तक हर कोई चपेट में, ये हैं वो टॉप 11 हस्तियां
कोरोना से जंग: अक्षय कुमार ने दिए 25 करोड़ तो सलमान, शाहरुख़ और आमिर जैसे सितारों ने दिया कितना दान?
कोरोना से जंग में किसी खिलाड़ी ने दान किए लाखों तो किसी के बड़े-बड़े बोल, फैंस भी हुए दुखी