नई दिल्ली: मशरूम (Mushroom) खाने के कई फायदे हैं. इससे शरीर को कई ऐसे जरूरी पोषक तत्व मिलते हैं, जिनका आपको अंदाजा तक नहीं होगा. मशरूम, फाइबर का भी अच्छा स्रोत है. कई बीमारियों में मशरूम का इस्तेमाल दवाई के तौर पर किया जाता है. मशरूम में कई महत्वपूर्ण खनिज और विटामिन होते हैं. इनमें विटामिन बी, डी, कॉपर, आयरन की पर्याप्त मात्रा होती है. मशरूम में एंटी-ऑक्सीडेंट भूरपूर होते हैं. ये बढ़ती उम्र के लक्षणों को कम करने और वजन घटाने में सहायक है. लेकिन क्या आप जानते हैं मशरूम खाना आपके लिए जहरीला साबित हो सकता है. बता दें कि सभी तरह के मशरूम खाने लायक नहीं होते हैं कुछ मशरूम जहरीले भी होते हैं. और इन्हें छूने मात्र से ही आप बीमार पड़ सकते हैं.

लाल रंग का यह जहरीला मशरूम ऑस्ट्रेलिया में पाया जाता है. हालांकि, इससे पहले जानकारों का मानना था कि यह कवक जापान और कोरिया जैसे एशियाई देशों में ही होता है. लेकिन यह कवक ऑस्ट्रेलिया के क्वींसलैंड में भी मिलता है. बता दें कि इस जहरीले मशरूम की वजह से जापान और दक्षिण कोरिया में कई लोगों की मौत हुई है. इस जहरीले मशरूम को सबसे पहले चीन में साल 1895 में खोजा गया था. ताजा रिपोर्ट के मुताबिक, इस कवक को इंडोनेशिया और न्यू पापुआ गिनी में भी देखा गया है.

ये होते हैं नुकसान
यह मशरूम इतना जहरीला होता है कि इसे खाने से ऑर्गन फेल होने लगते हैं. इंसान के अंग काम करना बंद कर देते हैं और दिमाग को भी नुकसान पहुंचता है. इतना ही नहीं इस मशरूम को छूने मात्र से ही शरीर में सूजन हो सकती है. जेम्स कुक विश्वविद्यालय (जेसीयू) के शोधकर्ताओं के मुताबिक, यह एकमात्र ऐसा मशरूम है, जिसका जहर त्वचा के जरिए अवशोषित हो सकता है.