नई दिल्ली : कोरोना वायरस (Coronavirus) ने पूरी दुनिया को अस्त-व्यस्त कर दिया है. इस महामारी ने सबसे ज्यादा प्रभावित किया है इटली (Italy) को, जहां कोरोना के चलते हर दिन 60 से ज्यादा मौतें हो रही हैं. इटली में इस संक्रमण ने अभी तक 14 हजार से ज्यादा लोगों की जान जा चुकी है. जिसके चलते लोगों में निराशा उपजना सामान्य है. इस बीच सोशल मीडिया (Social Media) पर कुछ तस्वीरें वायरल हो रही हैं, जिनमें सड़कों पर नोट पड़े हुए दिखाई दे रहे हैं. दावा किया जा रहा है कि ये तस्वीरें इटली की हैं, जहां लोगों ने मौतों से निराश होकर सड़कों पर पैसे फेंक दिए हैं. Also Read - Coronavirus Lockdown: स्कूलों को फिर से खोलने की योजना पर अभिभावकों की बढ़ी चिंता, जानें क्या सरकार प्लानिंग

वायरल फोटो को लेकर लोगों का कहना है कि इटली के लोगों ने ये पैसे इसलिए फेंक दिए, क्योंकि वह कोरोना से काफी निराश हैं और उनका कहना है कि जब उनका परिवार और चाहने वाले ही नहीं बच पा रहे हैं और लॉकडाउन (Lockdown) के चलते वह इन रुपयों को इस्तेमाल ही नहीं कर पा रहे तो इस धन-दौलत का क्‍या लाभ है? पैसों की कोई जरूरत नहीं रही? Also Read - लॉकडाउन में परिवार को घर पहुंचाने के लिए शख्स ने मजबूरी में चुराई बाइक, काम होने के बाद पार्सल कर लौटाई

लेकिन, इस वायरल फोटो पर सवाल यह उठता है कि क्या इन वायरल तस्वीरों में कोई सच्चाई है. तो बता दें कि सड़कों पर पत्तों की तरह फैले नोट की तस्वीर तो असली है, लेकिन यह इटली की नहीं है. क्‍योंकि ये तस्‍वीरें मार्च, 2019 से ही सोशल मीडिया पर वायरल हो रही हैं, जबकि इस दौरान तक कोरोना की दुनिया क्या चीन (China) में भी कोई चर्चा नहीं थी, जहां से यह महामारी उपजी है.

बता दें ये वायरल तस्वीरें इटली की नहीं बल्कि वेनेजुएला (Venezuela) की हैं. दरअसल, वेनेजुएला में कुछ लुटेरों ने एक बैंक लूटने के बाद पुरानी करेंसी को सड़कों पर फेंक दिया था. क्योंकि सरकार ने 2018 में वेनेजुएला की पुरानी करेंसी बदल दी थी. ऐसे में जब लुटेरों के हाथ पुरानी करेंसी लगी, जिसका कोई मोल ही नहीं था तो लुटेरों ने इसे सड़कों पर ही फेंक दिया.