नई दिल्ली: पूरी दुनिया इस समय कोरोना वायरस के चपेट में हैं. विश्वभर में कोरोना वायरस से मरने वाले लोगों की संख्या 19,246 हो गई है. अबतक दुनिया में 181 देशों में 427,940 मामले दर्ज किए गए हैं. ऐसे में सोशल मीडिया पर कोरोना से जुड़ी कई तरीके की ख़बरें भी फैल रही है. लॉकडाउन में कुछ झूठी और कुछ सच्ची खबरों से सना हुआ सा लग रहा है पूरा सोशल मीडिया. Also Read - भोपाल में 'टोटल लॉकडाउन', कोरोनावायरस के रोकथाम के लिए लिया गया फैसला

हाल ही में इंडोनेशिया के एक डॉक्टर की फोटो और खबर बहुत तेज़ी से वायरल हो रही है. ऐसा बताया जा रहा है कि तस्वीर में हादियो अली (Dr Hadio Ali) नामक जो डॉक्टर नज़र आ रहे हैं उनकी कोरोना से मौत हो गई है और ये तस्वीर उनके आखिरी बार अपने बच्चों से मिलने की है. Also Read - चतुराई दिखा रहा है तबलीगी जमात का मुखिया मोहम्मद साद, क्वारंटाइन के बहाने समर्थन हासिल करने की कोशिश

इस तस्वीर को हज़ारों लोग शेयर कर रहे हैं लेकिन आपको बता दें कि यह खबर पूरी तरह से फेक यानी झूठी है. असल में यह तस्वीर इंडोनेशिया नहीं बल्कि मलेशिया की है और जिस डॉक्टर की मरने की बात की जा रही है वो फिल्हाल कोरोना के इलाज में लगे हुए हैं.

जब इस तस्वीर की छानबीन शुरू हुई तब पता लगा की इस तस्वीर को डॉक्टर के एक कजिन भाई अहमद अफेंदी जैलानुदीन ने 21 मार्च को अपने फेसबुक अकाउंट पर शेयर की थी. इस तस्वीर का मतलब बस इतना ही था कि कोरोना की वजह से वो डॉक्टर अपने बच्चों के पास जाने से परहेज़ कर रहा है.