नई दिल्ली: फेसबुक पर इन दिनों रुपये की कुछ तस्वीरें काफी तेजी से वायरल हो रही हैं. इन तस्वीरों में 5000, 350, 5, और 2 रुपये के नोट दिख रहे हैं. पोस्ट साझा करने के साथ ही बताया जा रहा है कि इस करेंसी को भारतीय रिजर्व बैंक ने लॉन्च किया है. कुछ दिनों पहले भी कुछ ऐसा ही मामला सामने आया था जिसके बाद आरबीआई की तरफ से बयान जारी कर पूरे मामले को साफ किया गया था.

पोस्ट के अनुसार रिजर्व बैंक ने 5000 और 350 रुपये के नए नोट जारी किए हैं. आपको बता दें कि रिजर्व बैंक जब भी कुछ ऐसा करता है या नई करेंसी लॉन्च करता है तो इसकी सूचना बैंक के अधिकारिक वेबसाइट पर दी जाती है. अगर रिजर्व बैंक ने ये नोट जारी किए होते तो आपको इनकी तस्वीर बैंक की अधिकारिक वेबसाइट पर देखने को मिल जाती. यही नहीं आरबीआई ने बोल पैसा बोलता है नाम की मैगजीन में अभी चल रही सभी प्रकार की करेंसी का जिक्र किया है। इस मैगजीन और आरबीआई के वेबसाइट पर 5000 रुपये और 350 रुपये की नोट कहीं भी देखने को नहीं मिलती है. इन दोनों तस्वीरों को एडिटिंग सॉफ्टवेयर की मदद से बनाया गया है.

बता दें कि आरबीआई ने इन दिनों 5 और 2 रुपये के किसी प्रकार के नए नोट जारी नहीं किए हैं. 5 रुपये की इस नोट में फोटोशॉप की सहायता ली गई है. 50 रुपये की नोट को एडिट करके 5 रुपये बना दिया गया है. साथ ही 5 रुपये और 2 रुपये के नोट पर दिखाई दे रहे करेंसी नंबर एक ही हैं. जबकि बैंक एक ही नंबर के दूसरे नोट्स नहीं निकालता.

हालांकि पहले 1000, 500,200,100,75 और 60 रुपये के सिक्के जरूर निकाले गए थे. लेकिन इन सिक्कों का इस्तेमाल आम करेंसी की तरह नहीं किया जा सकता. इन सिक्कों को किसी घटना या किसी व्यक्ति की याद में बनाया गया है. ये सिक्के स्मारक सिक्के कहलाते हैं. इन सिक्कों की नीलामी सिक्योरिटी प्रिंटिंग एंड मिटिंग कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया लिमिटेड (SPMCIL) कराता है. सभी तस्वीरों को ध्यान से देखने और अन्य पहलुओं पर गौर करने से पता चलता है कि ये सभी करेंसी फर्जी हैं. तस्वीरों को फोटोशॉप की मदद से एडिट कर शेयर किया जा रहा है.