Friendship Day 2019: आज दोस्ती का दिन यानी फ्रेंडशिप-डे (Friendship Day 2019) है. इस मौके पर लोग अपने दोस्तों को याद कर रहे हैं. उनके साथ बिताए हुए दिनों की यादें सोशल मीडिया पर साझा कर रहे हैं. ऐसे में भारत के मित्र राष्ट्र इजरायल ने भी कुछ अलग अंदाज में फ्रेंडशिप-डे को सेलिब्रेट करने का तरीका ढूंढा है. जी हां, फ्रेंडशिप-डे के मौके पर भारत में स्थित इजरायली दूतावास ने एक वीडियो शेयर किया है, जिसमें पीएम नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) और इजरायल के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतनयाहू (Benjamin Netanyahu) की दोस्ती की कई तस्वीरें हैं. इजरायली दूतावास के इस वीडियो में दो देशों के प्रमुखों की दुनियाभर में चर्चित दोस्ती को दिखाने के लिए मशहूर हिंदी फिल्म ‘शोले’ (Sholay Movie) के गाने ‘ये दोस्ती हम नहीं तोड़ेंगे’ का सहारा लिया है.

भारत और इजरायल के संबंधों में पिछले कुछ वर्षों में नई गर्माहट आई है. पीएम मोदी के केंद्र की सत्ता में आने के बाद भारत और इजरायल, एक-दूसरे के करीब आए हैं. खुद पीएम मोदी भी कई बार इजरायली प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतनयाहू को अपना दोस्त बता चुके हैं. वहीं, नेतनयाहू भी पीएम मोदी की दोस्ती का जिक्र करते रहते हैं. ऐसे में फ्रेंडशिप-डे के मौके पर इन दोनों राष्ट्राध्यक्षों की दोस्ती का वीडियो, सोशल मीडिया पर चर्चा का विषय बना हुआ है. रविवार की सुबह इजरायल के दूतावास ने जैसे ही यह वीडियो शेयर किया, इंटरनेट यूजर्स ने इसे हाथों-हाथ लिया. कई यूजर्स ने इस वीडियो पर अपनी प्रतिक्रिया देते हुए दोनों देशों के बीच आने वाले दिनों में यह दोस्ती और भी प्रगाढ़ होने का भरोसा जताया है.

फ्रेंडशिप-डे के मौके पर इजरायली दूतावास द्वारा शेयर किया गया वीडियो, इजरायल द्वारा भारत को अपना दोस्त बताए जाने का पहला उदाहरण नहीं है. इसके पहले बेंजामिन नेतनयाहू के चुनाव के दौरान पीएम मोदी की तस्वीरों वाले बैनर लगाए जाने की भी खबरें आ चुकी हैं. आपको बता दें कि इजरायल के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतनयाहू ने वहां हो रहे चुनाव के दौरान अपनी पार्टी की जीत सुनिश्चित करने के लिए विश्व के कई प्रमुख देशों के नेताओं के साथ अपनी दोस्ती को प्रचार का जरिया बनाया है.

पीएम मोदी के बैनर-पोस्टर लगाकर इजराइल में चुनाव लड़ रहे हैं ये नेता, जानिए क्या है वजह

पीएम मोदी के बैनर-पोस्टर लगाकर इजराइल में चुनाव लड़ रहे हैं ये नेता, जानिए क्या है वजह

इज़राइल में 17 सितंबर को होने वाले मध्यावधि चुनाव से पहले प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतनयाहू की लिकुड पार्टी ने मतदाताओं को रिझाने के लिए भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप तथा रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन के साथ अपनी तस्वीर वाले बैनर लगाए हैं. तेल अवीव में लिकुड पार्टी का मुख्यालय चुनाव प्रचार के बैनरों से अटा पड़ा है, जिसमें नेतनयाहू की विश्व के तीन नेताओं के साथ नजदीकियों को दिखाया गया है.