Fake Challans: खुद को दिल्ली पुलिस का सहायक उप निरीक्षक बताकर कोविड-19 संबंधी नियमों का उल्लंघन करने वालों का फर्जी चालान करने के आरोप में 20 वर्षीय एक युवती को पश्चिमी दिल्ली के तिलक नगर इलाके से गिरफ्तार किया गया है. पुलिस ने बृहस्पतिवार को यह जानकारी दी. Also Read - आरएसएस मुख्यालय में 9 सीनियर स्वयंसेवक कोरोना वायरस के टेस्‍ट में पॉजिटिव निकले

उन्होंने बताया कि आरोपी की पहचान बाहरी दिल्ली के नांगलोई की रहने वाली तमन्ना जहां के रूप में हुई. वह बेरोजगार थी और उसने आसानी से पैसे पाने के लिए फर्जी चालान किए. Also Read - श्रमिक स्‍पेशन ट्रेनों में यात्रा करते हुए 97 लोगों की जान गई: संसद में सरकार का जवाब

पुलिस ने कहा कि तमन्ना ने पुलिस की वर्दी पहन ली और मास्क नहीं पहनने वालों और सामाजिक दूरी के नियमों का उल्लंघन करने वालों के चालान करने लगी. Also Read - 30 सांसद कोरोना पॉजिटिव निकले, संसद के मानसून सत्र में हो सकती है कटौती: र‍िपोर्ट

उन्होंने कहा कि इलाके में गश्त के दौरान हेड कांस्टेबल सुमेर सिंह ने पाया कि तिलक नगर में एक महिला मास्क नहीं पहनने वालों का चालान कर रही है.

एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने बताया कि सिंह ने शक होने के बाद एक कांस्टेबल को सादे कपड़ों में बिना मास्क पहने भेजा तो आरोपी ने चालान का भुगतान करने को कहा. बाद में पुलिस ने पूछताछ के बाद उसे गिरफ्तार किया.

पुलिस ने बताया कि उसके कब्जे से पुलिस की वर्दी, एक फर्जी चालान की किताब और 800 रुपये जब्त किए गए.