चंडीगढ़। आईआईएमसी एलुम्नाई एसोसिएशन (IIMCAA)के देश विदेश के 15 शहरों में सालाना मीट कनेक्शंस का इस साल का सिलसिला रविवार को चंडीगढ़ में सालाना मीट के साथ पूरा हो गया. देश के टॉप मास कॉम संस्थान आईआईएमसी के एलुम्नाई एसोसिएशन (ईमका) के पंजाब, हरियाणा, हिमाचल प्रदेश और जम्मू-कश्मीर चैप्टर के बैनर तले आयोजित मिलन समारोह में बड़ी संख्या में पंजाब के अलग-अलग हिस्से से आईआईएमसी के पुराने छात्र आए.

चंडीगढ़ मीट में वरिष्ठ पत्रकार डॉ. उपेंद्र पांडेय और चैप्टर की अध्यक्ष एलिस गुरम ने कैंपस वाले ब्यूरोक्रेट्स थीम के तहत आरपीएफ के डीआईजी आलोक कुमार को सम्मानित किया. समारोह में इस बात पर जोर दिया गया कि एलुम्नाई एक नियमित अंतराल पर मिलने-जुलने का कार्यक्रम करते रहें ताकि एक बैच और कैंपस का दूसरे बैच और कैंपस के लोगों से संबंध बना रहे.

iimc1

ईमका कनेक्शंस की शुरुआत इस साल दिल्ली से 18 फरवरी को हुई थी. उड़ीसा के ढेंकनाल, मुंबई, हैदराबाद, जयपुर, अहमदाबाद, लखनऊ, बेंगलुरू, गुवाहाटी, कोलकाता, भोपाल, रांची, पटना और सिंगापुर में मीट के बाद चंडीगढ़ इस साल के मीट सीरीज का आखिरी पड़ाव था. अगले साल 17 फरवरी को दिल्ली से 2019 के कनेक्शंस मीट की शुरुआत होगी.

एलुम्नाई मीट में ईमका कोषाध्यक्ष दीक्षा सक्सेना, चैप्टर उपाध्यक्ष हिंडोल बसु, महासचिव मुनि शंकर, आंध्र प्रदेश-तेलंगाना चैप्टर महासचिव शांतिस्वरूप सामंतरे, ईमका के पूर्व उपाध्यक्ष प्रसाद सान्याल, पूर्व संगठन सचिव रीतेश वर्मा, पूर्व सचिव अमित कनौजिया, शिक्षाविद नुपूर नूतन, वरिष्ठ पत्रकार डॉ. उमेश घरेरा, अशीमा सहजपाल, विनायक दत्त, अभिमन्यु कुमार साहा, भरत सिंह दिवाकर, रजत सैन, दिव्या शर्मा, अंजलि पाल, पीआर प्रोफेशनल मधुर कालरा, रागिनी पुरी, कृष्णा पोफले, पूजा मिश्रा, कंचन सोंधी, एचसीएल के डीजीएम मोहित अग्रवाल ने भी संबोधित किया.