जापान की एक राजकुमारी अकायो टोक्यो के मेईजी मंदिर में एक समारोह में एक आम नागरिक के साथ विवाह बंधन में बंध गईं. राजकुमारी अयाको सम्राट के चचेरे भाई की 28 वर्षीय बेटी हैं. उन्होंने प्रमुख शिपिंग कंपनी निपन युसेन में काम करने वाले 32 वर्षीय केई मोरिया से शादी की है. राष्ट्रीय समाचार में जोड़े को सोमवार सुबह मंदिर में मेहमानों के बीच जाते दिखाया गया.

शाही परिवार में विवाह करने वाली महिलाएं तो राजशाही का हिस्सा बन जाती हैं, लेकिन आम लोगों से विवाह करने वाली परिवार की सदस्य इससे बाहर हो जाती हैं. जानकारी के मुताबिक अकायो शादी के बाद भी दो अहम पदों पर बनी रहेंगी. रिपोर्ट के मुताबिक आज से पहले अभी से पहले शाही परिवार की जितनी भी महिलाओं ने आम इंसान से शादी की, उन सभी से सारे पद वापस ले लिए गए. हालांकि इस तोक्यो के मामले में यह एक अपवाद नजर आता है.

शाही परिवार के नियमों के अनुसार घर की कोई महिला अगर तयशुदा नियमों के खिलाफ जाकर शादी करती है तो उसे राजशाही से बेदखल करने का प्रावधान है. इस अपवाद के पीछे शादी परिवार के कम होते सदस्य बड़ा कारण बताया जा रहा है. हालांकि शाही परिवार के एक सूत्र ने बताया कि सा कदम उठाने के बाद भी अकायो का कुछ पदों पर बने रहने के पीछे कुछ और कारण हैं. उन्होंने शादी परिवार के सदस्यों की घटती संख्या की बात को नकार दिया.

उन्होंने कहा कि अकायो का मौजूदा समय में भी पदों पर बने रहना उनके और उनकी संस्थाओं के बीच हुए समझौते का एक हिस्सा भर है. इसका शाही परिवार के नियमों से कोई लेना देना नहीं है.