लेह। आमिर खान-राजकुमार हिरानी की फिल्म ‘3 इडियट्स’ में नजर आने के बाद सुर्खियों में आए द्रुक पद्मा कॉरपो स्कूल ने फैसला किया है कि वह ‘रैंचो वॉल’ को गिराएगा. इसके साथ ही स्कूल पर्यटकों के प्रवेश पर भी रोक लगाएगा क्योंकि अधिकारियों को लगता है कि इससे छात्रों का ध्यान बंटता है. Also Read - 14 साल की उम्र में यौन उत्पीड़न का शिकार हो चुकी हैं आमिर खान की बेटी इरा, सोशल मीडिया पर सुनाई आपबीती

पर्यटकों की पसंदीदा जगह बना Also Read - ऑनलाइन वर्कआउट कर रही थी इरा, तभी बीच में आ गए आमिर खान फिर हुआ...

फिल्म में स्कूल की इस दीवार का एक दृश्य था जिसमें चतुर नाम का एक किरदार उस पर पेशाब करता है और स्कूली बच्चों के एक स्वदेसी अविष्कार की वजह से उसे उस दौरान बिजली का झटका लगता है. स्कूल ने बाद में इस दीवार को ‘रैंचो वॉल’ के तौर पर पेंट कर दिया था जो पर्यटकों के लिये तस्वीर खिंचवाने का एक स्थल बन गया था. Also Read - आमिर खान की बेटी इरा ने अमोस के निधन पर जताया दुख, पोस्ट शेयर कर लिखा- 'सोचा नहीं था आप आसपास नहीं होंगे'

छात्रों का ध्यान भटकता है 

स्कूल के प्रिंसिपल स्टेनजिन कुनजेंग ने बताया कि इस फिल्म से स्कूल को काफी प्रचार मिला और लद्दाख आने वाले पर्यटकों के लिये यह एक अनिवार्य दर्शनीय स्थल बन गया. हालांकि हमें लगा कि इससे इस क्षेत्र में स्कूल बनाने का मकसद कामयाब नहीं हो रहा. स्कूल में आने वाले पर्यटकों से न सिर्फ छात्रों का ध्यान बंटता था बल्कि परिसर में गंदगी भी हो रही थी.

कुनजेंग ने कहा कि स्कूल का उद्देश्य लद्दाख के बच्चों को आधुनिक शिक्षा मुहैया कराना था-ऐसी शिक्षा जो उनकी संस्कृति से उन्हें जोड़े और उन्हें खुशहाल और सकारात्मक जिंदगी जीने के लिये तैयार कर सके.