बेंगलुरु: लोगों को हेलमेट के प्रति जागरूक करने के लिए मौत के देवता यमराज खुद सड़कों पर उतर आए हैं. लोग उनकी बातें सुन भी रहे हैं. उलसूर गेट ट्रैफिक पुलिस ने एक कलाकार को यमराज की वेश-भूषा में सड़कों पर उतारा है जो लोगों को फूल देकर उन्हें हेलमेट पहनने की अहमियत बता रहे हैं. पुलिस लोगों को संदेश दे रही है- ‘यमराज को अपने पास न आने दें, हेमलेट पहने. हर साल बड़ी संख्या में लोगों की मौत सड़क हादसों में हो जाती है. कई मामलों में हेलमेट पहनने की वजह से लोगों की जान बच जाती है.

ट्रैफिक पुलिस के डिप्टी कमिश्नर अनुपम अग्रवाह का कहना है कि हम जुलाई को रोड सेफ्टी के रूप में मना रहे हैं. ट्रैफिक के प्रति लोगों को जागरूक करने के लिए कई तरह के आयोजन किए जा रहे हैं. स्कूल और कॉलेजों के साथ ही लोगों को स्ट्रीट प्ले के जरिए ट्रैफिक के प्रति जागरूक किया जा रहा है. इसी के तहत हमने यमराज के कैरेक्टर को चुना है. हम लोगों को संदेश दे रहे हैं कि अगर आपने ट्रैफिक नियमों का पालन नहीं किया जो यमराज आपके घर आ जाएंगे.

यमराज का रोल करने वाले विरेश एक थियेटर आर्टिस्ट हैं. जो हिंन्दू परंपरा के नाटकों के जरिए लोगों को उनकी जिंदगी की अहमियत समझा रहे हैं. पुलिस का कहना है कि ट्रैफिक पुलिस के जागरुकता कैंपेन की मदद से सड़क हादसों को कम करने में मदद मिली है. इस साल जून के अंत तक सड़क हादसों के 2336 केस दर्ज किए गए. इनमें से 330 जानलेवा हादसे थे. पिछले साल दिसंबर के अंत तक सड़क हादसों के 5064 हादसे दर्ज किए गए इनमें से 609 जानलेवा थे. वहीं 2017 में 7506 हादसे हुए इनमें से 754 जानलेवा थे.