नई दिल्ली. प्रेम विवाह के प्रति समाज का दृष्टिकोण आज भी बदला नहीं है. खासकर दो अलग-अलग जातियों के प्रेमियों का मिलना तो और दुश्वार कर दिया जाता है. इसलिए अक्सर दो प्रेमियों के घर से भागकर शादी करने, उनके विवाह में बाधा डालने की खबरें आदि देखने-सुनने को मिलती रहती हैं. लेकिन प्रेम करने वाले इन बाधाओं से नहीं डरते. घर-परिवार के लाख विरोध के बावजूद, प्रेमी जोड़े एक-दूसरे के साथ जीने-मरने के लिए कुछ भी कर गुजरने को तैयार रहते हैं. देश के दक्षिणी राज्य कर्नाटक के टुमकुरू जिले में भी बीते दिनों कुछ ऐसा ही दृश्य देखने को मिला. घरवालों के विरोध के कारण टुमकुरू जिले के मधुगिरि के रहने वाले प्रेमी युगल ने उत्तरी बेंगलुरू के एक मंदिर में शादी की और Facebook के जरिए Live कर पूरी दुनिया को इसका गवाह भी बनाया.

अलग जाति के होने कारण मुश्किल
अंग्रेजी अखबार टाइम्स ऑफ इंडिया में छपी खबर के मुताबिक, फेसबुक पर Live शादी करने वाले प्रेमी जोड़े ने अपनी इस हरकत के लिए घरवालों को जिम्मेवार ठहराया है. इस जोड़े में प्रेमी 25 वर्षीय किरण कुमार एक बिजनेसमैन है, वहीं उसकी प्रेमिका 19 वर्षीय अर्पिता बी.कॉम सेकेंड ईयर की छात्रा है. उत्तरी बेंगलुरू के हेसरघट्टा मंदिर में शादी करने वाले इस जोड़े ने टाइम्स ऑफ इंडिया को बताया कि फेसबुक पर अपनी शादी को लाइव करने के पीछे उनका मकसद घरवालों और दुनिया को अपनी शादी के बारे में बताना था. किरण कुमार ने अखबार को बताया कि वे दोनों अलग-अलग जातियों से है. दोनों के परिजनों ने कहा था कि अगर वे साथ रहना चाहते हैं तो उन्हें घर छोड़ना पड़ेगा. इसलिए मजबूर होकर उन्हें मंदिर में शादी करनी पड़ी.

लड़की की गुमशुदगी का पुलिस में शिकायत
प्रेमी जोड़ों के मान-मनौव्वल के बावजूद घरवालों ने इन दोनों को शादी करने की अनुमति नहीं दी. प्रेमी जोड़े ने घरवालों के राजी होने का इंतजार भी किया, लेकिन पिछले सप्ताह लड़की के पिता, जो कि मधुगिरि में राजनीतिक दल से जुड़े हैं, उन्होंने अर्पिता की गुमशुदगी को लेकर पुलिस में शिकायत कर दी. इसके बाद यह मामला गंभीर हो गया. टाइम्स ऑफ इंडिया के अनुसार, दोनों प्रेमियों ने अपने-अपने घरवालों को शादी के लिए मनाने की पूरी कोशिश की, लेकिन वे नहीं माने. मजबूरन उन्हें घरवालों की मर्जी के खिलाफ मंदिर में शादी करनी पड़ी. किरण कुमार ने अखबार को बताया, ‘हम चाहते थे कि हमारे घरवाले भी शादी में आएं. हमने उन्हें मनाने की पूरी कोशिश की. लेकिन किसी ने हमारी भावनाओं को नहीं समझा, तब हमारे पास कोई और विकल्प नहीं बचा था. आखिरकार हमें मंदिर में शादी करने का निर्णय लेना पड़ा.’ फेसबुक पर शादी को लाइव करने को लेकर किरण ने कहा, ‘हम घरवालों के विरोध के बावजूद शादी कर रहे हैं, इसकी जानकारी दुनिया को भी हो, इसलिए हमने फेसबुक लाइव के जरिए लोगों तक अपनी बात पहुंचाई.’

शादी की वीडियो देख पुलिस ने बंद किया केस
मंदिर में शादी करने के बाद किरण और अर्पिता ने लाइव वीडियो पुलिस को सौंप दिया है. इस आधार पर पुलिस लड़की के पिता द्वारा दर्ज गुमशुदगी के केस को बंद करने जा रही है. एक पुलिस अधिकारी ने टाइम्स ऑफ इंडिया को बताया, ‘हमें दोनों प्रेमियों की शादी का वीडियो मिल गया है. लड़की से जल्द ही पूछताछ की जाएगी. चूंकि लड़की नाबालिग नहीं है, इसलिए किसी के साथ शादी करने से हम उसे रोक नहीं सकते. कानूनन वह अपनी पसंद के अनुसार जिसके साथ चाहे शादी कर सकती है. इसलिए पुलिस अब इस केस की जांच-पड़ताल बंद कर देगी.’