ठाणे: नवी मुंबई के एक निवासी को 34,465 यूनिट बिजली चोरी करने के लिए सात लाख रूपये का भुगतान करना पड़ा. अधिकारियों ने शनिवार को बताया कि वह अपने पालतू कुत्तों के लिए 24 घंटे एसी चलाकर रखता था. उन्होंने बताया कि राज्य द्वारा संचालित महाराष्ट्र स्टेट इलेक्ट्रिसिटी डिस्ट्रीब्यूशन कंपनी लिमिटेड (एमएसईडसीएल)ने व्यक्ति के नाम का खुलासा नहीं किया. उक्त व्यक्ति ने कई विदेशी नस्ल के कुत्ते पाल रखे थे. Also Read - Covid-19: उद्धव ठाकरे और पलानीस्वामी ने कोरोना वायरस को मजहबी रंग नहीं देने की अपील की

एक अधिकारी ने कहा, ‘‘कुत्तों को पूरी तरह से आराम में रखने के लिए वह एक विशेष तापमान पर पूरे दिन अपने घर पर एसी चलाता था. बिजली चोरी के बारे में सूचना मिलने के बाद हमने उस पर नजर रखनी शुरू की.’’ Also Read - कोरोना वायरस से संक्रमित लोगों के लिये तैरता पृथक वास तैयार कर रहा है मुंबई बंदरगाह न्यास

अधिकारी ने कहा, ‘‘हमने विद्युत अधिनियम, 2003 की धारा 135 (बिजली चोरी) के तहत कार्रवाई की जिसके बाद उस व्यक्ति ने 34,465 यूनिट बिजली चोरी करने के लिए कुल सात लाख रुपये का भुगतान किया.’’ शायद ये पहला मौका है जब कुत्तों के लिए एसी चलाने के लिए इतने बड़े पैमाने पर बिजली चोरी की गई. और इतनी भारी-भरकम राशि भी चुकाई गई. लोगों का कहना है कि ये शख्स कुत्तों से बेहद प्यार करता है. ऐसे में उसने ऐसा कर डाला और पकड़ में आ गया. दुनिया में ऐसे लोगों की कमी नहीं जब कुत्तों से लोग इतना प्यार करते हैं. Also Read - 14 राज्यों में अब तक तबलीगी जमात के 647 लोग कोरोना वायरस से संक्रमित पाए गए: Health Ministry