Married To An Effigy: कोरोनावायरस महामारी के दौरान सोशल डिस्टेंसिंग वाली शादियां तो आपने खूब देखी होंगी, पर अब एक ऐसी अनोखी शादी की तस्वीरें सामने आई हैं जिसका आप अंदाजा तक नहीं लगा सकते. ये शादी हुई है प्रयागराज, उत्तर प्रदेश में. Also Read - BSP MLA राजू पाल मर्डर केस में पूर्व सांसद अतीक अहमद का भाई अशरफ गिरफ्तार, 1 लाख था इनाम

इस शादी में भी मंडप सजा, दूल्हा-दुल्हन तैयार हुए, पंडित जी ने मंत्र पढ़े. लेकिन दुल्हन की जगह लकड़ी का पुतला था. खबर है कि दूल्हें के 90 साल के पिता की आखिरी ख्वाहिश इस शादी को देखना था. इसलिए शादी में जमकर नाच-गाना हुआ, दावत हुई, पर शादी हर तरफ चर्चा का विषय बन गई. Also Read - Coronavirus in Prayagraj: प्रयागराज में एक दिन में कोरोना से 23 लोग संक्रमित, कुल संख्या 252 पहुंची, जानें पूरी डिटेल

प्रयागराज शहर से करीब 30 किलोमीटर दूर घूरपुर इलाके के भैदपुर गांव में ये शादी हुई है. Also Read - यूपी में 9 जिलों के पुलिस कप्तानों समेत 14 IPS अधिकारियों का हुआ तबादला, जानें किसकी कहां हुई नियुक्ति

देखें-

दूल्हा 32 साल का है, नाम पंचराज है. शादी का लाल जोड़ा पहने लकड़ी का पुतला दिख रहा है.

पंचराज के पिता हैं शिव मोहन पाल. रेलवे से रिटायर्ड बुजुर्ग शिव मोहन के 9 बेटे हैं, सभी की शादी हो चुकी है केवल पंचराज को छोड़कर. वजह है पंचराज का अनपढ़ होना. वो बेरोजगार है. इसलिए शिव मोहन ने ये शादी करवाई, जिससे किसी लड़की का जीवन बर्बाद ना हो.