विवाह-शादी के मौसम में ऐसे युवक या युवती, जिनकी शादी में अनावश्यक रूप से विलंब हो रहा हो, तो उनके परिवार का दुखी होना लाजिमी है. आम तौर पर जिन घरों में युवक या युवती की शादी में विलंब होता है, उन्हें सामाजिक रूप से भी बड़ी पीड़ा उठानी पड़ती है. लेकिन क्या आपको मालूम है कि शादी में हो रही देरी या अनावश्यक रूप से आने वाली बाधाओं को आप चाहें तो घर बैठे दूर कर सकते हैं. जी हां, दुर्गा सप्तशती जैसे पवित्र धर्मग्रंथ का पाठ आपको शादी में देरी होने जैसी बाधाओं से मुक्ति दिलाने में सक्षम है. आचार्य डॉ. विकास नाथ झा के अनुसार, दुर्गा सप्तशती के पाठ के अलावा ज्योतिषीय दृष्टि से महत्वपूर्ण कुछ कार्यों को करने से जातक की ऐसी समस्याएं निश्चित रूप से दूर हो सकती हैं. Also Read - वक्री हुए बुध, अगले 21 दिन बेहद अहम, जानें आपकी राशि पर क्‍या होगा असर...

डॉ. विकास नाथ झा ने बताया कि दुर्गा सप्तशती का श्रद्धापूर्वक पाठ करने से सारी बाधाएं दूर हो जाती हैं. उन्होंने कहा कि शादी-विवाह में हो रही देरी के निवारण के लिए भी दुर्गा की आराधना करना लाभकारी है. डॉ. विकास नाथ झा के अनुसार शादी-विवाह के कार्यों को जल्द से जल्द संपन्न कराने के लिए कुछ उपाय किए जाएं, तो इस मार्ग में आने वाली सारी बाधाएं दूर हो सकती हैं. जातक अगर राशि, नक्षत्र और मुहूर्त को ध्यान में रखते हुए कुछ धार्मिक नियमों का पालन करे, तो निश्चित ही उसकी शादी जल्द से जल्द संपन्न होगी. Also Read - बुध ने किया कन्‍या राशि में प्रवेश, जानें आपकी राशि पर क्‍या होगा असर...

जल्द शादी के लिए करें ये उपाय Also Read - ज्योतिष के प्रोफेसर ने की भाजपा के 300 सीटें जीतने की भविष्यवाणी, कमलनाथ सरकार ने किया निलंबित

1- मंगलवार के दिन प्रातः मुहूर्त में लाल कपड़ा में थोड़ा सा धान और तीन गोटा हल्दी रखकर पूर्वोत्तर कोण में मिट्टी में दबा दें. शीघ्र ही मंगल योग आएगा.

2- यदि जातक कर्क, सिंह और मिथुन राशि का हो तो पीले कपड़े में थोड़ा सा मूंग और तीन गोटा हल्दी रखकर तालाब के पूर्वोत्तर किनारे से जल में प्रवाहित कर दें. 33 दिनों के अंदर मंगल योग आएगा.

3- यदि जातक मांगलिक है, तो इसकी शांति करनी पड़ेगी, तत्पश्चात पहले बताए गए नियमों का अवलोकन करना पड़ेगा. शीघ्र ही मंगल योग आएगा.

सभी जातकों के लिए आवश्यक है नियमित रूप से इस मंत्र का जाप करें-

”ऊं ऐं हीं क्लीं चामुण्डायै विच्चे उर्ध्वायै नमः।।”