हैदराबाद। सोशल नेटवर्क फेसबुक ने एक बार फिर बिछड़े को परिवार से मिलाने का चमत्कार किया है. फेसबुक के जरिए सात साल बाद एक लड़के का पता चलने का आनोखा मामला सामने आया है. यह लड़का साल 2011 में अपने घर से लापता हो गया था. राचाकोंडा पुलिस आयुक्त महेश एम भागवत ने बताया कि सुजीत कुमार झा (जो अब 23 साल का है) मुंबई में पुलिस को मिला.

वॉट्सऐप पर घंटों वक्त बिताती थी होने वाली दुल्हन! लड़के ने शादी वाले दिन तोड़ दिया रिश्ता

उन्होंने बताया कि उसके माता-पिता और रिश्तेदार कुमार से मिलकर काफी खुश हैं. लड़का मुंबई में एक खानपान ठेकेदार के अधीन काम कर रहा था. मलकाजगिरी पुलिस थाने में 31 जनवरी 2011 को उसके लापता होने की शिकायत दर्ज कराई गई थी जब कुमार 15 साल का था.

फेसबुक पर देखा था अकाउंट

भागवत ने बताया कि लड़के के एक रिश्तेदार ने फेसबुक पर उसका अकाउंट देख उसे रिक्वेस्ट भेजी थी लेकिन उसने उसे स्वीकार नहीं किया. बाद में उसने अलग नाम से प्रोफाइल बना ली और शिकायतकर्ता ने सोशल नेटवर्किंग साइट पर उसकी उपस्थिति के बारे में मलकाजगिरी पुलिस को सूचित किया. उन्होंने बताया कि जानकारी के आधार पर साइबर अपराध के अधिकारियों ने मामले की जांच की और लापता कुमार का पता लगाया.

बहरहाल, फेसबुक और दूसरे सोशल नेटवर्किंग साइट्स के जरिए किसी लापता के मिल जाने का ये पहला मामला नहीं है. इसी तरह के मामलों में कई बार सालों से बिछड़े लोग सोशल मीडिया के जरिए एक दूसरे से मिल चुके हैं.