उत्तर प्रदेश के बागपत से एक चौंकाने वाला मामला सामने आया है. यहां एक पुलिस वाले को निलंबित किया गया है. अब आप सोच रहे होंगे कि निलंबन तो होते हैं, इसमें चौंकाने वाला क्या है. दरअसल, जिस पुलिस वाले को निलंबित किया गया उसे कारण ये बताया गया कि उसने बिना अनुमति दाढ़ी बढ़ाई है. Also Read - बुंदेलखंड के बांदा में कर्ज के चलते की किसान ने सुसाइड, पत्‍नी ने कहा- बैंक लोन की वसूली का था दबाव

जानकारी के अनुसार, इस पुलिसकर्मी का नाम है सब-इंस्पेक्टर इंतेसार अली. अली को बिना अनुमति दाढ़ी रखने पर निलंबित कर दिया गया और पुलिस लाइंस भेज दिया गया है. Also Read - इस डॉक्टर ने पेश की मिसाल, जरूरतमंद बेटियों को दे रहीं शिक्षा, जगा रहीं उम्मीद की अलख

निलंबन से पहले अली को दाढ़ी हटाने के लिए तीन बार चेतावनी दी गई थी और दाढ़ी बढ़ाने को लेकर अनुमति लेने के लिए कहा गया था. हालांकि, पुलिसकर्मी ने अनुमति नहीं ली और दाढ़ी बढ़ाना जारी रखा. जिसके बाद ये कार्रवाई की गई है. Also Read - यूपी: युवती पर बना रहा था धर्म परिवर्तन का दबाव, ग‍िरफ्तार आरोपी पहुंचा जेल की सलाखों के पीछे

एसपी बागपत अभिषेक सिंह ने अधिक जानकारी देते हुए बताया कि पुलिस मैनुअल के अनुसार, सिर्फ सिखों को दाढ़ी रखने की अनुमति है, जबकि अन्य सभी पुलिसकर्मियों को चेहरे साफ-सुथरा रखना आवश्यक है.

एसपी ने कहा, “यदि कोई पुलिसकर्मी दाढ़ी रखना चाहता है, तो उसे उसकी अनुमति लेनी होगी. इंतेसार अली से बार-बार अनुमति लेने के लिए कहा गया, लेकिन उन्होंने इसका पालन नहीं किया और बिना अनुमति के दाढ़ी रख ली.”

अली पुलिस बल में सब-इंस्पेक्टर के रूप में शामिल हुए और पिछले तीन सालों से बागपत में तैनात थे. उन्होंने संवाददाताओं से कहा कि उन्होंने दाढ़ी रखने की अनुमति मांगी थी, लेकिन कोई प्रतिक्रिया नहीं मिली.
(एजेंसी से इनपुट)