नई दिल्लीः मौजूदा समय में देश में ज्यादातर लोगों के पास सिर्फ दो ही मुद्दे बात करने के लिए हैं. एक चन्द्रयान-2 और दूसरा मोटर ह्वीकल एक्ट में बदलाव के बाद देश में कट रहे भारी भरकम चालान. इसरो चीफ के. सिवन के यह कहने के बाद कि लैंडर विक्रम का पता चल गया है और भारतीय वैज्ञानिक लगातार विक्रम से संपर्क करने का प्रयास कर रहे हैं, नागपुर पुलिस का एक ट्वीट चर्चा का विषय बना हुआ है. नागपुर पुलिस का यह ट्वीट पोस्ट करने के कुछ मिनटों में ही सोशल मीडिया में छा गया और यूजर्स इसकी तारीफ करने में लगे हुए हैं. नागपुर पुलिस ने ट्वीट किया कि ‘विक्रम तुम जवाब दो, हम तुम्हारा चालान नहीं काटेंगे’.

DL और RC नहीं, अब लुंगी पहन कर गाड़ी चलाने पर कटेगा इतने रुपये का चालान, जान लें नए नियम

चन्द्रयान 2 के लैंडर से संपर्क टूटने के बाद महाराष्ट्र की नागपुर पुलिस ने यह बेहद दिलचस्प ट्वीट पोस्ट किया जिसके बाद सोशल मीडिया में पुलिस को तारीफ मिल रही है. पुलिस ने अपने ऑफीशियल अकाउंट से ट्वीट करते हुए लिखा कि डियर विक्रम आप जवाब दिजिए, आपने सिग्नल तोड़ा है लेकिन हम आपका चालान नहीं काटेंगे. यह ट्वीट पोस्ट ही हुआ था कि इसे वायरल होने में बिल्कुल भी टाइम नहीं लगा और यूजर्स ने इसकी जमकर प्रशंसा की. एक यूजर्स ने लिखा कि आप लैंडर को न ही गिरफ्तार कर सकते हैं और न ही कोई मामला दर्ज कर सकते है.


26 हजार का ऑटो, ड्राइवर को मिला 47 हजार का चालान, बोला-ऑटो ही रख लो

आपको बता दें कि हाल ही में देश में मोटर व्हीकल एक्ट में बदलाव किए गए हैं जिसके बाद से ही देश के अलग-अलग शहरों से भारी भरकम चालान कटने की खबरें आ रही हैं. नागपुर पुलिस के इस ट्वीट को खूब पसंद किया जा रहा है. सोशल मीडिया पर यह ट्वीट वायरल हो गया है. इससे पहले शनिवार को नागपुर पुलिस ने चन्द्रयान2 के मिशन की तारीफ करते हुए एक पोस्ट किया था कि हमारे वैज्ञानिकों ने देश का नाम रोशन किया है और साथ कही कहा था कि प्रिय इसरो हमारा केवल संपर्क टूटा है, उम्मीद नहीं. हम आपके साथ हैं.

पत्रकार ने की छोटी सी गलती और देने पड़ गए एक बोतल बियर के लिए 49 लाख रुपए

सोमवार को नागपुर पुलिस द्वारा किए गए ट्वीट पर यूजर्स कई तरह के कमेंट्स भी कर रहे हैं. एक यूजर्स ने लिखा कि मैं जानता था नागपुर पुलिस चन्द्रमा में है. बता दें कि चन्द्रयान और इसरो को लेकर इसरो के अधिकारियों की तरफ से लोगों को चेताया भी गया है . उन्होंने कहा कि इस समय सोशल मीडिया में इसरो और के सिवन के नाम से कई सारी फेक प्रोफाइल बन चुकी हैं जिनमें बहुत सी गलत जानकारी भेजी जा रही हैं, कृपया इन सूचनाओं से बचें.