नई दिल्ली: कोरोना वायरस के कारण पूरे देश में लॉकडाउन लगाया है गया है. इस कारण सभी लोग अपने घरों के अंदर रहने को मजबूर हैं. वहीं देशभर के कोरोना योद्धा लोगों को कई तरीके से खुश करने व उन्हें यह एहसास दिलाने में जुटे हुए हैं कि इस मुश्किल घड़ी में वे अकेले नहीं बल्कि पूरा देश उनके साथ खड़ा है. कुछ ऐसा ही मामला हरियाणा के पंचकुला में देखने को मिला. यहां पुलिस विभाग की टीम एक बुजुर्ग के घर पहुंची और उनके जन्मदिन पर केक कटवाया. यह सब देख बुजुर्ग रो पड़े और भावुक होकर रोने लगे. इस भावुक लम्हें का वीडियो सोशल मीडिया पर खूब वायरल हो रहा है. इसे देख कर लोग कई तरह के भावुक कमेंट भी कर रहे हैं. Also Read - International Labour Day 2020: मई दिवस की क्या है अहमियत, आखिर कब हुई थी इसकी शुरुआत

करण पुरी नाम के यह बुजुर्ग पंचकुला के सेक्टर 7 में अकेले रहते हैं. लॉकडाउन के कारण वह अपने परिवार से काफी दूर हैं. ऐसे में इलाके के पुलिसकर्मी मंगलवार के दिन केक लेकर बुजुर्ग के घर के बाहर पहुंच गए. इस दौरान जब बुजुर्ग घर से बाहर आए, तो पुलिस वालों ने उनसे उनका नाम पूछा. तब उन्होंने बताया कि उनका नाम करण पुरी है और वह यहां अपने मकान में अकेले रहते हैं. इसके तुरंत बाद पुलिसकर्मियों ने केक बाहर निकाला और जन्मदिन की बधाई देनी शुरू की. Also Read - नेहा कक्कड़ ने दी भाई टोनी को जन्मदिन की बधाई, फोटो शेयर कर लिखा ये बात

ऐसा होते देख बुजुर्ग पहले तो नीचे की तरफ बैठे, फिर अचानक कुछ दूर जाकर रोने लगे. इस दौरान जब वह अपने आंसू पोछ रहे थे. तो एक पुलिसकर्मी ने कहा कि कोई बात नहीं सर, हम भी आपका परिवार ही हैं. इसके बाद उन्हें बर्थडे कैप लगाने को कहा गया और फिर बुजुर्ग ने केक काटा. इस वीडियो को आईपीएस अधिकारी पंकज नैन ने अपने अधिकारिक ट्विटर हैंडल से शेयर किया है. वीडियो को पोस्ट करते हुए उन्होंने लिखा- पुलिस के साथ मुलाकात हमेशा भावुक कर देने वाली होती है. लेकिन मैंने कभी इतना भावुक पल नहीं देखा है. देखें कैसे पंचकुला की पुलिस ने वरिष्ठ नागरिक के जन्मदिन को खास बना दिया. इस पोस्ट में उन्होंने पंचकुला के सीपी को सम्मान देते हुए टैग भी किया है.