नई दिल्ली: युवाओं पर इन दिनों मोबाइल गेम्स का बुरी तरीके से बुखार चढ़ा है. समय समय पर कुछ नए गैजेट गेम्स ने इन युवाओं की जिंदगी भी बर्बाद की है. इसी कड़ी में एक गेम है जो नई पीढ़ी के बीच बहुत मशहूर है जिसे लोग PUBG के नाम से जानते हैं. इस गेम ने युवाओं पर ऐसा असर छोड़ा है जिससे बाहर निकल पाना इनके लिए बहुत मुश्किल है. बीते कुछ सालों में इस गेम ने कई जिन्दगियां खत्म कर दी है. हालही में 20 साल के एक जवान लड़के ने PUBG खेलते हुए अपनी जान दे दी.

हिंदुस्तान टाइम्स की एक रिपोर्ट के अनुसार यह लड़का गेम खेलते हुए इस कदर बीजी हो गया था कि उसने पानी की जगह केमिकल वॉटर को पी लिया. बेख्याली में हुआ यह हादसा इस बात का सुबूत है की यह गेम किसी भी शख्स को बांध कर रख देता है. रिपोर्ट के अनुसार मृत बालक का नाम सौरभ यादव है. आगरा छावनी के रेलवे पुलिस के मुताबिक सौरभ अपने दोस्त संतोष शर्मा के साथ ट्रेन में सफर कर रहा था.

संतोष गहने का व्यापर करता है और वो काम के सिलसिले से ही आगरा सफर कर रहा था. उसके पास केमिकल का पानी मौजुद था जिसे वो ऑर्नामेंट साफ करने के लिए इस्तेमाल करता है. गेम खेलते हुए सौरभ ने बेध्यानी में वो पानी पी लिया जिससे उसकी मौत हो गई. आगरा और ग्वालियर के बीच मोरेना नामक एक जगह पर सौरभ की मौत हो गई. जीआरपी के इंचार्ज विजय सिंह ने बताया की इसके बाद सौरभ के शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है और उन दोनों के परिवार को इस घटना के बारे में सूचित कर दिया गया है.