उदयपुर: आप जिस संस्था के लिए काम करते हैं, उसके प्रति वफादार होना एक प्रशंसनीय काम है, लेकिन राजस्थान में एक व्यक्ति ने इस ‘प्यार’ और ‘वफादारी’ को परिभाषित करने के लिए एक बड़ा कदम उठा लिया है. राजस्थान सरकार में काम करने वाला एक कांग्रेसी कार्यकर्ता अपनी पार्टी से इतना प्यार करता है कि उसने परिवार के  आपत्तियों के बावजूद अपने दूसरे बच्चे का नाम ‘कांग्रेस’ रख दिया.

क्लास 4th के बच्चे ने लिखा ऐसा निबंध, जिसे पढ़कर हर कोई हुआ भावुक, टीचर भी खूब रोई

विनोद जैन उदयपुर में राजस्थान के मुख्यमंत्री कार्यालय में एक मीडिया अधिकारी के रूप में काम करते हैं और बीते मंगलवार को उन्हें अपने बच्चे का जन्म प्रमाण पत्र मिला जिसपर उसका नाम ‘कांग्रेस जैन’ लिखा हुआ था. पिता विनोद ने कहा, “मेरे परिवार के कुछ सदस्य बच्चे के इस नाम से खुश नहीं थे लेकिन मैंने उन्हें समझाया और मनाया. मेरे बच्चे का जन्म जुलाई में हुआ था और जन्म प्रमाण पत्र बनवाने में इतने वक्त लग गए लेकिन अब उसका जन्म प्रमाण पत्र राज्य सरकार द्वारा जारी हो गया है जिस पर बच्चे का नाम ‘कांग्रेस जैन’ दर्ज किया गया है.

पीएम मोदी से मासूम सवाल पूछ चर्चा में आई ये लड़की, मेडिसिन में बनाना चाहती है करियर

यही नहीं उन्होंने कहा, “मैं अशोक गहलोत से प्रेरित हूं और मैं अशोक गहलोत के साथ रहा हूं और मुझे लगता है कि जब मेरा बच्चा 18 साल का हो जाएगा तो वह भी राजनीतिक करियर शुरू करेगा.” जैन ने कहा कि उनका पूरा परिवार कांग्रेस पार्टी से जुड़ा है और वह चाहते हैं कि उनकी आने वाली पीढ़ियां भी उनके नक्शेकदम पर चलें.