बाड़मेर: पुलवामा आतंकी हमला, एयर स्ट्राइक, सरहद पर तनाव का असर सिर्फ शहीद हुए परिवारों या दो देशों के बीच के रिश्तों और सियासत पर ही नहीं पड़ा है, बल्कि इससे आम लोगों के रिश्तों पर भी इसका असर पड़ा है. आज से तीन दिन बाद 8 मार्च को शादी होनी है. दूल्हा-दुल्हन दोनों के घरों में तैयारियां हो चुकी हैं. कार्ड भी बंट चुके हैं, लेकिन भारत और पाकिस्तान के बीच टेंशन ने बंधन में बंधने की तैयारी कर रहे परिवारों को भी मुश्किल में डाल दिया है. दो देशों के बीच टेंशन के चलते फिलहाल शादी कैंसिल कर दी गई है.

स्नेहा और सुमन अमेरिका से ऑस्कर अवॉर्ड लेकर पहुंचीं गांव, जगह-जगह स्वागत

दरअसल, राजस्थान के बाड़मेर ज़िले के खेजड का पार गांव में रहने वाले महेंद्र सिंह की शादी पाकिस्तान के अमरकोट ज़िले के सिनोई गांव में होने है. दुल्हन पाकिस्तान के इसी गांव की है. दूल्हा-दुल्हन दोनों के ही गांव भारत-पाकिस्तान के बॉर्डर पर स्थित हैं. महेंद्र ने बताया कि तैयारियां पूरी हो चुकी हैं. उन्होंने बताया कि थार एक्सप्रेस से बरात के लिए जाना था, थार एक्सप्रेस भारत और पाकिस्तान के बीच चलती है, लेकिन इससे जाने के लिए सिर्फ पांच लोगों को ही वीजा मिल सका. बाकी लोगों को पकिस्तान की ओर से वीजा मिलेगा या नहीं, इस पर अब तक संशय बना हुआ है. इसीलिए उन्होंने शादी को टालने का फैसला किया है.

एयर स्ट्राइक के बाद फिर चली समझौता एक्सप्रेस, सिर्फ 12 लोगों ने की यात्रा

पुलवामा आतंकी हमले में 40 जवानों की हुई शहादत के बाद दोनों देशों के बीच तनाव है. भारत द्वारा एयर स्ट्राइक किये जाने से ये तनाव और चरम पर चला गया. महेंद्र सिंह का कहना है कि इस तनाव के कारण उन्होंने शादी टालने का फैसला किया है. उन्होंने बताया कि शादी कब तक के लिए टाली है. अगली तारीख क्या होगी, इसके बारे में अभी कुछ नहीं कहा जा सकता है, लेकिन फिलहाल शादी की सब तैयारियां बेकार हो गई हैं.