आपने बहुत सारी ख़बरें और कहानियां सीरियल किल्लिंग की सुनी और पढ़ी होंगी। मगर आज एक ऐसे सीरियल किलर के बारे में बताने जा रहें है जो शादी कर अपनी पत्नी को सुहागरात के बाद उतार देता था मौत के घाट। ऐसे मानसिकता वाले लोगो को अगर नर पिशाच का नाम दिया जाए तो वह गलत नहीं होगा। चलिए तो बतातें हैं साइनाइड मोहन के नाम से पहचाने जाने वाले इस सीरियल किलर के बारे में। Also Read - दिल्‍ली में सीरियल किलर डॉक्‍टर गिरफ्तार, 50 मर्डर कबूले, पुलि‍स को 100 से ज्‍यादा का शक

Also Read - 20वीं महिला के मर्डर केस में भी 'साइनाइड' मोहन दोषी, 5 मामलों में सुनाई जा चुकी है फांसी

क्या था साइनाइड मोहन का असली नाम: Also Read - 20 महिलाओं का मर्डर कर चुके सीरियल किलर 'Cyanide' मोहन को उम्रकैद, 5 बार सुनाई जा चुकी है फांसी

यह ख़तरनाक सीरियल किलर कर्नाटक का रहने वाला था। इसका नाम मोहन कुमार उफ्फ साइनाइड मोहन इसके खून करने के अंदाज से पड़ा था। पेशे से मोहन एक स्कूल में टीचर था, मगर उसका मन महिलाओं से शादी कर उनकी हत्या करने के बाद उनके गहने लूटने में लगता था।

कैसे देता था कत्ल को अंजाम:

इस सीरियल किलर को पहले एक शिकार की तलाश रहती थी। वो महिलाओं को अपनी प्यारी प्यारी बातो में उलझा कर अपने प्रेमजाल में फसाता था और फिर उनसे शादी कर पूरी रात सुहागरात मनाने के बाद दूसरे दिन उन्हें गर्भनिरोधक गोली खिलाने के बहाने उन्हें साइनाइड खिला देता था। और ऐसे करके मोहन करता था लड़कियों का कत्ल।

साल 2005 से 2009 के बीच दिए थे सभी कत्ल को अंजाम:

साइनाइड मोहन ने सभी कत्ल को अंजाम साल 2005 से 2009 के बीच दिए थे। इन 4 सालो में मोहन ने एक के बाद एक करते हुए 20 लड़कियों को अपना शिकार बनाया था। यह भी पढ़ें: प्रत्युषा बैनर्जी की तरह इन हसीनाओं ने भी अपने ही हाँथ से लगाया था मौत को गले

ऐसे पकड़ा गया था साइनाइड मोहन:

साइनाइड मोहन की 19 वीं शिकार थी सुनंदा जिसके साथ भी मोहन ने वही किया जो उसने पिछली सभी महिलाओं के साथ किया था। सुनंदा अपने शादी के दूसरे दिन मंदिर के लिए निकली थी मगर उसकी लाश किसी बस अड्डे के पास मिली। वहीं उसके बाद साइनाइड मोहन ने अपना 20 वा शिकार अनीथा नाम की लड़की को बनाया था। जिसके बाद वह पुलिस के हाथों चढ़ गया। कोर्ट ने इस सीरियल किलर को 20 मामले में दोषी पाया और साल 2013 में उसे फांसी की सजा दे दी।