नई दिल्ली: पुलिस का नाम सामने आते ही हम थोड़ा घबरा जाते हैं. यदि कभी उनसे पाला भी पड़ जाता है तो हम अपनी बातों को कहने से पहले 10 बार सोचते हैं और सभी बातों को नाप-तोल कर बोलते हैं. ऐसा इसलिए होता है, क्योंकि हमारे दिमाग की पुलिस की छवि कुछ ऐसी बन चुकी है मानों हर बात पर पुलिस का प्रकोप झेलना पड़ता है. लेकिन बीते कुछ वक्त से पुलिस भी अब लोगों के साथ व्यवहारिक रिश्ते बनाने में लगी हुई है. पुलिस का काम है लोगों को सुरक्षा प्रदान करना लेकिन यहां लोग पुलिस से घबराते दिखते हैं. ऐसे में सभी राज्यों की पुलिस अब खुद में सुधार करने में जुटी हुई है. इस बार कुछ ऐसा ही वाक्या दिल्ली पुलिस के साथ देखने को मिला. Also Read - मौलाना साद को गिरफ्तार नहीं करेगी दिल्ली पुलिस, सामने आए तो क्वारंटाइन में रखा जाएगा

जैसा कि सभी को पता है CAA के विरोध में दिल्ली के शाहीन बाग में प्रदर्शन किया जा रहा है. ऐसे में वहां सड़क मार्ग को बंद रखा गया है. लोग सड़कों पर बैठकर धरना प्रदर्शन कर रहे हैं. ऐसे में प्रदर्शनकारियों की सुरक्षा व किसी प्रकार की अनहोनी घटना को ध्यान में रखते प्रशासन ने नेशनल हाइवे 13A को बंद कर रखा है. ऐसे में बीते कल खबर आई की इस सड़क को अब खोला जा रहा है. प्रदर्शनकारी सड़क से हटने को तैयार है. इस बीच एक सोशल मीडिया यूजर ने दिल्ली पुलिस को टैग करते हुए ट्वीट कर लिखा कि शाहीन बाग रोड नंबर 13A का रास्ता खोल दिया गया है क्या? Also Read - निजामुद्दीन मरकज को खाली कराने वाली टीम में शामिल रहे दिल्‍ली पुलिस के 7 जवान छुट्टी पर भेजे गए

इसके जवाब में दिल्ली पुलिस ने सर यह अभी भी बंद है. गौरतलब है कि बीते दिनों कई राज्यों की पुलिस द्वारा अनोखी मुहीम चलाई गई थी. इसमें पुलिस के लिए लोगों के अंदर मौजूद डर को खत्म करने का काम किया गया. एक तरफ जहां पुणे पुलिस वैलेंटाइन डे पर ट्वीट कर सेलिब्रेशन की बात करती तो उसके जवाब में यूजर लिखते पुणे पुलिस से लॉन्ग डिस्टेंस रिलेशन ही बढ़िया है. वहीं गुरुग्राम पुलिस हेलमेट के इस्तेमाल को बढ़ावा देने के लिए मीम्स शेयर करती. गुरुग्राम पुलिस द्वारा शेयर किए गए मीम में फिल्म कबीर सिंह के अभिनेता शाहिद कपूर कबीर सिंह के गेटअप में जा रहे हैं.

इस तस्वीर को शेयर करते हुए कैप्शन दिया गया- जब खुद बचोगे तभी प्रीति को बचा पाओगे. बता दें कि प्रीति फिल्म कबीर सिंह में शाहिद कपूर की प्रेमिका का नाम है. इस तरह के अनोखे ट्वीट व व्यवहारिक रिश्तों को बढ़ावा देकर पुलिस प्रशासन लोगों के भीतर पुलिस के लिए मौजूद डर को खत्म करना चाहती हैं ताकि लोग बेझिझक पुलिस से अपनी बात को कह सके व शिकायतें कर सकें.