न्यूयॉर्क: तनाव भरी इस जिंदगी में लोग दिल को फिट रखने के लिए कई तरह की कसरत करते हैं. प्रति दिन सात घंटे की नींद आप के दिल को जवां रख सकती है और साथ ही दिल संबंधी रोगों का जोखिम भी घटा सकती है. रिसर्च से पता चला है कि रात में सात घंटे नींद लेने वाले वयस्कों में दिल का बुढ़ापा सबसे कम है. सात घंटे से कम या ज्यादा की नींद का संबंध दिल की जवानी से जुड़ा हुआ है, जबकि कम नींद लेने वालों के दिल में बूढ़ापन देखा गया है. Also Read - IIT रुड़की के छात्रों का कमाल, दिल के मरीजों के लिए बनाया मोबाइल ऐप 'धड़कन'

sdgdhtf1 copy

नींद की अवधि, दिल की उम्र के साथ मिलकर दिल संबंधी जोखिमों और नींद की अवधि के फायदे के संप्रेषण में मददगार साबित हो सकती है. अमेरिका के जॉर्जिया में इमोरी विश्वविद्यालय की जूलिया दुरमर ने कहा, “ये परिणाम महत्वपूर्ण हैं, क्योंकि यह लोगों के दिल संबंधी जोखिमों के संचार और नींद की अवधि को शामिल करने के परिमाणात्मक पद्धति को प्रदर्शित करते हैं.”

dffgjfgfjk1 copy

इस शोध का प्रकाशन ‘स्लीप’ नामक पत्रिका में हुआ है. इसमें 12,775 वयस्कों के आंकड़ों को शामिल किया गया, जिनकी आयु 30 से 74 साल के बीच थी.