नई दिल्ली. जम्मू-कश्मीर के कला, संस्कृति और भाषा अकादमी की सचिव प्रो. रीता जतिंदर की टीवी पर लाइव टॉक शो (Live talk show) के दौरान हार्ट अटैक आने से मृत्यु हो गई. रीता जतिंदर जम्मू एवं कश्मीर में डोगरी भाषा की जानी-मानी स्कॉलर थीं. इसके अलावा वह सामाजिक रूप से भी काफी सक्रिय थीं. राज्य की राजधानी श्रीनगर में सरकारी चैनल दूरदर्शन के डीडी कशिर पर एक टॉक शो के दौरान बातचीत करते हुए ही जतिंदर को हार्ट अटैक आया और देखते ही देखते उनकी मृत्यु हो गई. प्रो. रीता जतिंदर की लाइव शो के दौरान हुई अचानक मृत्यु को लेकर टि्वटर और फेसबुक पर कई लोगों ने संवेदना जताई है.

मीडिया रिपोर्टों के अनुसार, डीडी कशिर पर आयोजित लाइव शो में प्रो. जतिंदर महिलाओं के मुद्दे पर आधारित एक कार्यक्रम में भाग लेने आई थीं. शो में इंटरव्यूअर से बातचीत करते-करते वह अचानक चुप हो गईं. शो में मौजूद और आसपास खड़े अन्य लोग जब तक कुछ समझ पाते, इसके पहले ही प्रो. जतिंदर की मौत हो गई. प्रो. रीता जतिंदर जम्मू-कश्मीर में डोगरी भाषा के विदुषियों में से एक मानी जाती थीं. उनकी लिखी कहानियों और गीतों को डोगरी साहित्य की निधि माना जाता है. युवा अवस्था में पाकिस्तान से भारत आने वाली सामाजिक कार्यकर्ता प्रो. जतिंदर साहित्य के अलावा रेडियो ब्रॉडकास्टर के रूप में भी जानी-पहचानी जाती थीं.

लाइव शो में प्रो. रीता जतिंदर की मौत से पहले इसी साल जनवरी में केरल के डांसर कलामंडलम गीतानंदन की भी स्टेज पर एक कार्यक्रम के दौरान अपनी प्रस्तुति देते हुए मौत हो गई थी. एनडीटीवी.कॉम के अनुसार, सोशल मीडिया पर इस प्रख्यात नर्तक की असामयिक मृत्यु का वीडियो में दिखा था कि डांस करते हुए गीतानंदन, एक पर्क्यूसन (वादक कलाकार) आर्टिस्ट के पास गिर गए थे. उन्हें तत्काल हॉस्पिटल ले जाया गया, लेकिन इससे पहले ही उनकी मृत्यु हो गई.