Teachers Attendance New Rule: देश में कोरोनावायरस के कारण तमाम स्‍कूल-कॉलेज बंद हैं. अभी इनके खुलने की तारीख भी तय नहीं हुई है. पर अध्‍यापकों की हाज‍िरी सुन‍िश्‍च‍ित करने को नए नियम जारी क‍िए जा रहे हैं. ये न‍ियम बनाए गए हैं उत्‍तर प्रदेश में. Also Read - Vikas Dubey Encounter Updates: आठ दिन में विकास दुबे मामले को योगी सरकार ने ऐसे किया खत्म, सोशल मीडिया मे जमकर हो रही वाहवाही

खबर है क‍ि उत्तर प्रदेश में योगी आदित्यनाथ की सरकार ने सभी कस्तूरबा गांधी बालिका विद्यालयों में “सेल्फी द्वारा उपस्थिति” दर्ज कराने का आदेश दिया है. Also Read - 'सत्ताधारियों और अपराधियों' की मिलीभगत का खामियाजा कर्तव्यनिष्ठ पुलिसकर्मियों को भुगतना पड़ रहा है' : अखिलेश यादव

बेसिक शिक्षा के महानिदेशक विजय किरण आनंद द्वारा सभी बेसिक शिक्षा अधिकारियों (बीएसए) को जारी एक पत्र के अनुसार, अब सभी शिक्षकों को ‘प्रेरणा’ ऐप पर स्टाफ-शिक्षकों, वार्डन और अन्य की सेल्फी क्लिक करना और अपलोड करना अनिवार्य है. Also Read - योगी सरकार मेरठ मंडल में 1 से 7 जुलाई तक चलाएगी विशेष अभियान, सीएम ने अधिकारियों को दिए निर्देश

पत्र में कहा गया है कि जो लोग तस्वीरें अपलोड करने में विफल रहते हैं, उनकी उस दिन की उपस्थिति नहीं लगेगी और उसका भुगतान भी नहीं होगा. इसमें आगे कहा गया कि सभी बीएसए को निर्देश दिया जाता है कि वे अपने परिसरों में केजीबीवी द्वारा दी जा रही सुविधाओं की तस्वीरें भी सुनिश्चित करें.

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने राज्य भर के सरकारी शिक्षकों के दस्तावेजों की जांच करने का आदेश दिया है.

गौरतलब है क‍ि बेसिक शिक्षा विभाग ‘अनामिका शुक्ला घोटाला’ के बाद कई तरह के उपाय कर रहा है. इस घोटाले में सामने आया कि एक शिक्षक को 13 महीने तक 25 कस्तूरबा विद्यालय में काम करते हुए पाया गया और वेतन के रूप में 1 करोड़ रुपये निकाले गए.
(एजेंसी से इनपुट)