अयोध्या : उत्तर प्रदेश के 12 साल के एक बच्चे ने धर्म और जीवनी जैसे विषयों पर अबतक कुल 135 किताबें लिखी हैं. इसमें राज्य के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की जीवनी भी शामिल है. मृगेंद्र राज ने कहा कि उन्होंने छह साल की उम्र से किताबें लिखनीं शुरू की और उनकी पहली किताब कविताओं का एक संकलन थी. Also Read - अब प्रयागराज के इस स्थान में स्थापित होगी भगवान राम की विशाल मूर्ति, योगी सरकार ने 15 करोड़ बजट को दी स्वीकृति

वह लेखक के तौर पर ‘आज का अभिमन्यु’ नाम का उपयोग करते हैं और उनके नाम कुल चार वर्ल्ड रिकॉर्ड हैं. मृगेंद्र राज ने कहा, ‘मैंने रामायण के 51 किरदारों का विश्लेषण करके किताबें लिखीं. हर किताब में करीब 25 से 100 पन्ने हैं. यहां तक की लंदन स्थित वर्ल्ड यूनिवर्सिटी आफ रिकॉर्ड्स से मुझे डॉक्टरेट के लिए ऑफर भी मिला.’ Also Read - UP कैबिनेट ने Ayodhya Airport का नया नाम मर्यादा पुरुषोत्तम श्री राम एयरपोर्ट करने के प्रस्‍ताव को पास किया

सुल्तानपुर स्थित एक प्राइवेट स्कूल में पढ़ाने वाली उनकी मां ने कहा कि उनके लड़के ने बचपन में ही पढ़ने में रुचि दिखाई और उन्होंने अपने बेटे को प्रोत्साहित किया. मृगेंद्र के पिता राज्य के चीनी उद्योग व गन्ना विकास विभाग में काम करते हैं. मृगेंद्र ने कहा कि वह बड़े होकर एक लेखक ही बने रहना चाहते हैं और विभिन्न विषयों पर अधिक से अधिक किताबें लिखना चाहते हैं. Also Read - Lord Rama Shringverpur: अयोध्या के बाद श्रृंगवेरपुर में स्थापित होंगे श्रीराम, लगेगी भव्य मूर्ति, जानें महत्व