उन्‍नावः उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के उन्‍नाव (Unnao) जिले के डीएम देवेंद्र पांडे सरकारी स्कूलों के औचक निरीक्षण के लिए चौरा गांव स्थित विद्यालय पहुंचे थे. जहां जांच के दौरान डीएम देवेंद्र पांडे (DM Devendra Pandey) उस वक्त हैरान रह गए जब उन्होंने अंग्रेजी की टीचर से इंग्लिश (English) की किताब पढ़ने को कहा और महिला टीचर किताब में से कुछ लाइनें भी नहीं पढ़ पाई.

महिला टीचर को अंग्रेजी पढ़ते देख डीएम भी आश्चर्य में पड़ गए और इसके बाद उन्होंने स्कूल के बच्चों को इंग्लिश पढ़ने को कहा, लेकिन बच्चे भी इंग्लिश पढ़ने में फेल ही रहे. महिला टीचर और बच्चों की इंग्लिश देख डीएम ने महिला टीचर को सस्‍पेंड करने का आदेश दिया है.

डीएम देवेंद्र कुमार पांडे जिस वक्त सिकंदरपुर सरोसी ब्लॉक के जूनियर विद्यालय चौरा औचक निरीक्षण के लिए पहुंचे थे उस वक्त बीएसए भी उनके साथ मौजूद थे. इस दौरान जब उन्होंने अंग्रेजी की शिक्षिका और स्कूल की हेड मास्टर सुशीला भारती से इंग्लिश की किताब पढ़ने को कहा तो वह बोलीं कि उनकी इंग्लिश कमजोर है. इस पर जब डीएम ने किताब पढ़ने पर जोर दिया तो यहां बच्चे ही नहीं हेड मास्टर सुशीला भारती और सहायक शिक्षिका राजकुमारी अंग्रेजी की किताब नहीं पढ़ पाई थीं.

जिसके बाद दोनों टीचर्स को सस्पेंड कर दिया गया. वहीं, बीएसए प्रदीप कुमार पांडेय ने खंड शिक्षा अधिकारियों को स्कूलों की जांच सौंपी है. आपको बता दें कि निरीक्षण के समय डीएम ने दोनों शिक्षिकाओं पर बीएसए को कार्रवाई करने का आदेश दिया था. बीएसए प्रदीप कुमार पांडेय ने बताया कि उस विद्यालय में दो शिक्षक थे, दोनों को निलंबित किया गया है.