नई दिल्‍ली: मुंबई के कुर्ला रेलवे स्टेशन पर सोमवार दोपहर 1:30 बजे एकाएक हड़कंप मच गया. क्‍योंकि दूसरे नंबर प्‍लेटफार्म से होता हुआ एक व्‍यक्ति रेल की पटरियों के बीच आत्‍महत्‍या करने के लिए लेट गया. यह देख सभी भौचक्‍के हो गए. तो कुछ यात्री और रेलवे सुरक्षा बल के जवानों ने दौड़कर उसकी जान बचाई. सबने उस व्‍यक्ति को समझाकर वहां से हटाया. इस दौरान पूरा घटनाक्रम स्‍टेशन पर लगे सीसीटीवी में कैद हो गया.

 

जानकारी के मुताबिक, पारिवारिक कारणों से परेशान होकर 54 साल के नरेंद्र दामाजी कोटेकर ने सोमवार को कुर्ला स्‍टेशन पर आत्‍महत्‍या करने का प्रयास किया. पूरी घटना के दौरान वक्‍त 1:30 बजे का था. रेलवे सुरक्षा बल और यात्रियों ने उसे बचाकर पूछताछ की. उसने रेलवे पुलिस को बताया कि वह पारिवारिक कारणों से अपनी जान देना चाह रहा है. इस पर जवानों ने उसे काफी समझाया और उसे उसके परिवार वालों को सौंप दिया. वहीं लोगों ने रेलवे पुलिस की सराहना की.

युवक ने पहले किशोरी को जिंदा जलाया, जब सुना कि मौत हो गई तो ट्रेन से कटकर दे दी जान

रेलवे सुरक्षा बल के जवानों ने बचाई कईयों की जान
बता दें कि कुछ दिन पहले भी रेलवे सुरक्षा बल के जवान ने पनवेल रेलवे स्‍टेशन पर एक व्‍यक्ति की जान बचाई थी. जो कि ट्रेन से उतरने में असमर्थ था और गिरने वाला था, इसी बीच तेजी दिखाते हुए जवान ने उसे किनारे पर खींच लिया था, जिससे उसकी जान बच गई थी. इसके अलावा 5 फरवरी को, मुंबई में नायगांव रेलवे स्टेशन पर रेलवे सुरक्षा बल से एक कॉन्स्टेबल ने सात साल के बच्‍चे की जान बचाई थी. उस समय कॉन्‍स्‍टेबल सुनील कुमार नापा ने तेजी दिखाते हुए बच्‍चे को खींच लिया था, क्‍योंकि वह प्‍लेटफार्म से ट्रेन व ट्रैक के बीच गिरने वाला था.