अगर आपको टाइट जीन्स पहनना पसंद है तो आपको अपने जीवन शैली में सतर्क रहना पड़ेगा. इन टाइट कपड़ों को ज्यादा समय तक पहनने से आपको अपने जीवन में कभी कभी गंभीर परस्थितियों से गुजरना पड़ सकता है. आपके जीवन के कुछ मजेदार रोड ट्रिप्स कभी कभार जिंदगी भर के लिए आपको परेशान कर देते हैं. कहानी है 30 वर्षीय सौरभ शर्मा की जो पीतमपुरा में रहते हैं. हाल ही में उनकी एक रोड ट्रिप ने उन्हें अस्पताल का चेहरा दिखा दिया.

टाइट डेनिम जीन्स पहनकर लॉन्ग ड्राइव करने से  सौरभ को एक गंभीर स्थिति का सामना करना पड़ा. जब वो ड्राइव कर रहे थे तब अचानक से उनके पैर सूज गए और उनकी आंखों के सामने अंधेरा छा गया. पल्मोनरी एम्बोलिस्म का शिकार हुए सौरभ जब अस्पताल पहुंचे तब डॉक्टर ने इसकी वजह लगातार टाइट जीन्स पहनकर ड्राइव करना बताया.

सौरभ ने इस हादसे के बारे में कहा, “मैं ऋषिकेश के रास्ते में था और टाइट डेनिम पहनी थी. चूंकि यह एक स्वचालित कार थी, इसलिए मेरा बायां पैर बिल्कुल भी नहीं हिला. मुझे अपने काफ और घुटनों में दर्द महसूस होने लगा लेकिन मैंने इसे नजरअंदाज कर दिया. दो दिनों के बाद, मेरा पैर सूज गया था और कार्यालय पहुंचने के बाद, मुझे सांस लेने में दिक्कत होने लगी और पसीने के अलावा पांच मिनट तक ब्लैकआउट का सामना भी करना पड़ा”.

ऑफिस के सहयोगी के मुताबिक सौरभ ऑफिस की सीढ़ियों पर बेहोश पाए गए थे और उन्हें होश में लाने के लिए काफी मेहनत करनी पड़ी. सौरभ के बार बार बेहोश होने की वजह से उन्हें अस्पताल ले जाया गया. लो बीपी और पल्स से जूझते सौरभ की हालत बहुत ही क्रिटिकल हो गई थी. डॉक्टरों ने सीपीआर थेरेपी की मदद से सौरभ की हालत को स्थिर किया.

मैक्स सुपर स्पेशलिटी हॉस्पिटल केडायरेक्टर एंड एचओडी, कार्डियोलॉजीडॉ. नवीन भामरी ने इस मामले में कहा, “लंबी अवधि में कम बीपी के कारण, उनकी किडनी ठीक से काम नहीं कर पा रही थी. उन्हें 24 घंटे डायलिसिस थेरेपी पर रखा गया था. हमें बाद में पता चला कि लंबी ड्राइव के कारण उन्हें बड़े पैमाने पर पल्मोनरी एम्बोलिस्म का सामना करना पड़ा. उन्होंने टाइट-फिटिंग डेनिम पहन रखा था, जो उनके पैर में थक्का बनने का एक कारण हो सकता है”. एम्स में कार्डियोलॉजी के प्रमुख डॉ. वी के बहल ने कहा, “लंबे समय तक असहज कपड़े पहनने से भी यह समस्या हो सकती है.”