लड़कियों से छेड़छाड़, दुष्कर्म से जुड़ी खबरें पूरे समाज को शर्मसार करने वाली होती हैं, पर ये अपराध और जघन्य हो जाता है जब एक ही परिवार के कई सदस्य इसमें शामिल हों. ऐसी ही एक घटना पीलीभीत से सामने आई है. Also Read - 22 साल की उम्र, तीन बीवियां, अब तीनों मिलकर ढूंढ़ रहीं पति के लिए चौथी पत्नी!

उत्तर प्रदेश के पीलीभीत में 17 साल की लड़की से दुष्कर्म के प्रयास के आरोप में 4 लोगों पर मामला दर्ज किया गया है. सभी आरोपी सगे भाई हैं. मामला अतिरिक्त जिला और सत्र न्यायाधीश के निर्देश पर पॉक्सो एक्ट के तहत दर्ज किया गया है. Also Read - क्या! दिवाली के बाद इस गांव में लोग गोबर से खेलते हैं 'होली', देखें Video

यह घटना 9 अक्टूबर को हुई. जब 23 से 28 साल की उम्र के लड़के, लड़की के घर में घुस गए और उनमें से एक ने उसके साथ दुष्कर्म करने का प्रयास किया, जबकि अन्य ने अपने मोबाइल फोन पर इसका वीडियो बनाया. Also Read - OMG! 10 हजार रुपये की बाढ़ राहत पाने हजारों लगे कतार में, ऐसे कैसे होगी कोरोना से लड़ाई?

हालांकि, लड़की के चिल्लाने के बाद आसपास के लोग इकट्ठा हो गए, जिससे सभी आरोपी भागने पर मजबूर हो गए.

आरोपी ने धमकी दी कि अगर लड़की या उसके परिवार के सदस्य पुलिस से संपर्क करेंगे तो वो वीडियो को सोशल मीडिया पर अपलोड कर देंगे.

लड़की के पिता ने कोतवाली पुलिस और पुलिस अधीक्षक के पास शिकायत दर्ज कराई. परिवार ने आरोप लगाया कि कोई कार्रवाई नहीं की गई, जिसके बाद पीड़िता के पिता अदालत चले गए.

लड़की के पिता ने कहा कि सबसे बड़ा भाई उनकी बेटी को घूरता है और अक्सर उसके साथ अश्लील हरकतें करता है.

उसने कहा कि जब वह शिकायत के साथ आरोपी के परिवार के पास पहुंचे, तो आरोपी दानिश और उसके तीन भाइयों ने उसकी पिटाई की और धमकी दी कि अगर वह या उसकी बेटी पुलिस के पास जाएगी तो वो वीडियो वायरल कर देगा.

स्टेशन हाउस ऑफिसर (एसएचओ) श्रीकांत द्विवेदी ने कहा कि मुख्य आरोपी और उसके भाइयों पर भारतीय दंड संहिता की धारा 354 (एक महिला के साथ आपराधिक व्यवहार करना), 323 (जानबूझकर चोट पहुंचाना), 452 (जबरन किसी के घर घुसना) और 506 (आपराधिक धमकी) के तहत केस दर्ज किया या है. उन पर पॉक्सो एक्ट भी लगाया गया है.

उन्होंने कहा कि मामले की जांच की जा रही है और जल्द ही कार्रवाई की जाएगी.
(एजेंसी से इनपुट)