गर्मागर्म समोसे देखकर अक्सर लोगों के मुँह में पानी आ जाता है। लगता है बस खाते जाओ। लेकिन समोसे कि यह खबर सुनकर आपका मुँह खुला का खुला रह जाएगा। इस समोसे को खाने से ज्यादा रोचक इसके बारे में जानना है। उत्तर प्रदेश में महाराजगंज के सिसवा कस्बे में युवाओं की एक टोली ने दुनिया का सबसे बड़ा समोसा तैयार किया है। समोसे का कुल वजन तीन क्विंटल 87 किलो 750 ग्राम है।
यह भी पढ़ेंः बनाया अनोखा वर्ल्ड रिकॉर्ड: सिर के बल घूमते हुए लिखा SMS

गिनीज बुक में रिकॉर्ड दर्ज करने की कवायद
गिनीज बुक में इंग्लैंड के ब्राडफोर्ड कालेज के नाम दुनिया का सबसे बड़ा समोसा बनाने का रिकॉर्ड दर्ज था। उसका वजन 110.8 किग्रा था। लेकिन उत्तर प्रदेश के इन युवाओं ने 387 किलो का समोसा बनाकर उस रिकॉर्ड को तोड़ दिया है। इस उपलब्धि को गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड में दर्ज कराने की तैयारी है। इसके लिए विश्व का सबसे बड़ा समोसा बनाने की प्रक्रिया की वीडियोग्राफी करवाई गई है। इसे गिनीज बुक प्रबंधन को भेजा जाएगा।

Samosa2

यह भी पढ़ेंः जानिए इस महिला का नाम गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड्स में क्यों दर्ज हुआ

इंटर के छात्र का कारनामा
दुनिया के सबसे बड़े समोसे को बनाने का बीड़ा इंटर के छात्र रितेश सोनी ने अपने साथियों के साथ उठाया। सोमवार रात को पूजा अर्चना के बाद जब समोसा बनाने की प्रक्रिया शुरू हुई तो लोगों ने तालियाँ बजाकर उनका उत्साहवर्धन किया। मंगलवार को सुबह नौ बजे समोसा बनकर तैयार हो गया। रितेश ने दावा किया कि यह दुनिया का सबसे बड़ा समोसा है। इसको बनाने के पीछे मंशा पिछड़े जिले महराजगंज की ओर सरकार का ध्यान खींचना है।

विश्व की सबसे बड़ी जलेबी का रिकॉर्ड भी महराजगंज के नाम
पिछले साल महाराजगंज के कटहरी गाँव के मनीष प्रजापति ने 10 युवाओं के साथ मिलकर दुनिया की सबसे बड़ी जलेबी बनाकर गिनीज बुक में नाम दर्ज करवाया था। इसका कुल वजह 70 किग्रा था।