जालंधर: ज़िला रोज़गार और कारोबार ब्यूरो (डीबीईई) युवाओं को रोज़गार के अधिक से अधिक अवसर प्रदान करने के उदेश्य से ज़िले के सभी ब्लाकों में 01 जनवरी से 15 जनवरी 2021 तक 11 प्लेसमेंट कैंप लगाने जा रहा हैं, जिनमें सक्योरिटी स्किल्ज़ काऊंसल इंडिया लिमटिड (एसएससीआई) की तरफ से ज़िले के युवाओं की सक्योरिटी स्टाफ के लिए रजिस्ट्रेशन की जाएगी. Also Read - उत्‍तरी भारत समेत कई राज्‍यों में कुछ दिन तक ठंड और ढाएगी कहर, मौसम विभाग का शीत लहर का अलर्ट जारी

इस बारे में जानकारी देते हुए डिप्टी कमिश्नर, जालंधर घनश्याम थोरी ने बताया कि 1 जनवरी को ब्लाक विकास और पंचायत दफ़्तर, फिल्लौर, 4 जनवरी को ब्लाक विकास और पंचायत दफ़्तर, नकोदर, 5 जनवरी को ब्लाक विकास और पंचायत दफ़्तर, शाहकोट, 6 जनवरी को ब्लाक विकास और पंचायत दफ़्तर, महितपुर, 7 जनवरी को ब्लाक विकास और पंचायत दफ़्तर, नूरमहल, 8 जनवरी को ब्लाक विकास और पंचायत दफ़्तर, रुड़का कलाँ, 11 जनवरी को ब्लाक विकास और पंचायत दफ़्तर, आदमपुर, 12 जनवरी को ब्लाक विकास और पंचायत दफ़्तर, भोगपुर, 13 जनवरी को ब्लाक विकास और पंचायत दफ़्तर, लोहियाँ ख़ास, 14 जनवरी को ब्लाक विकास और पंचायत दफ़्तर, जालंधर पूर्वी और 15 जनवरी को ब्लाक विकास और पंचायत दफ़्तर, जालंधर पश्चिमी में प्लेसमेंट कैंप लगाए जाएंगे. उन्होनें बताया कि इस रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया में सिर्फ़ लड़के भाग लेने योग्य होंगे और कैंपों में भाग लेने के लिए कोई रजिस्ट्रेशन फीस नहीं है, और उम्मीदवार बिल्कुल मुफ़्त भाग ले सकते है. Also Read - Punjab News: गुरदासपुर और फिरोजपुर में जल्द बनेंगी दो नई कैंपस यूनिवर्सिटी

डिप्टी कमिश्नर ने बताया कि कैंप में भाग लेने वाले उम्मीदवार का कद (कम से -कम) 168 सैमी., वज़न 50 किलोग्राम, छाती 80 -85 सेमी और उम्र 21 से 37 साल और शैक्षिक योग्यता 10वीं पास /फैल होनी चाहिए. उन्होनें बताया कि कैंप में चुने गए उम्मीदवारों को एक महीनें का प्रशिक्षण दिया जायेगा। ड्यूटी के समय 12 घंटो के लिए 12,500 /- से 14000 /- रुपए और 8 घंटे के लिए 10000 /- से 11000 /- रुपए तनख़्वाह के अलावा ईपीएफ, ईएसआई, ग्रैच्युटी, इंशोरैंस, मैडीकल, पैंशन आदि की सुविधा भी दी जाएगी. Also Read - Farmers Protest: ठंड और बारिश के बीच 41 वें दिन अब भी दिल्ली के बॉर्डर पर डटे किसान, आंदोलनकारी खुले बदन प्रदर्शन करते आए नजर

थोरी ने कहा कि बेरोजगार युवाओं को नौकरियां दिलाने के अलावा डीबीईई युवाओं को स्व -रोज़गार के लिए कर्ज़ देने में भी सहायक के तौर पर काम कर रही है जिससे युवाओं की मदद की जा सके. उन्होनें कहा कि डीबीईई की तरफ से युवाओं में जागरूकता पैदा करने के लिए सक्रियता के साथ काम किया जा रहा है जिससे युवाओं को सरकारी योजनाओं का लाभ मिलना यकीनी बनाया जा सके, जिससे उनको आत्म निर्भर बनने में मदद मिलेगी.

उन्होंने युवाओं से अपील की कि वह कैंपों का अधिक से अधिक लाभ लेने और अन्य ज्यादा जानकारी के लिए ज़िला रोज़गार और कारोबार ब्यूरो जालंधर में 0181 -2225791 पर संपर्क कर सकते सकता है.